तीर्थ नगरी में ट्रेफिक जाम ने सरकारी सिस्टम किया फेल!

तीर्थ नगरी में ट्रेफिक जाम ने सरकारी सिस्टम किया फेल!

ऋषिकेश-सुपर संडे तीर्थ नगरी में हैवी जाम के नाम रहा। श्यामपुर फाटक से  लक्ष्मण झूला तक लगी पर्यटकों के वाहनों की लंबी कतारों में चींटी की तरह रेंगते रहे यातायात को नियंत्रित करने में पुलिस के सारे इंतजाम विफल हो गए। लंबी सड़क की दोनों लेन में वाहनों की तीन-तीन कतारें लगी रही जिसमें लोगों के पैदल चलने तक की जगह तक नहीं बची ।



 शहर में तमाम प्रमुख मार्गोें पर दिन भर जाम की स्थिति बनी रही जिसे खुलवाने में पुलिस प्रशासन के पसीने छूट गए। नवंबर माह के अतिंम सप्ताह में गुनगुनी धूप के बीच भंयकर ट्रैफिक जाम ने शहरवासियों के साथ-साथ यहां आने वाले पर्यटकों एवं श्रद्धालुओं को दिनभर बुरी तरह से हलकान करके रखा। रविवार की सुबह से ही हरिद्वार रोड ,देहरादून रोड ,लक्ष्मण झूला मार्ग पर वाहनों की लंबी कतारों के चलते ट्रैफिक व्यवस्था पटरी से उतरनी शुरू हो गई थी। दोपहर बाद भी स्थिति में बिल्कुल भी सुधार देखने को नहीं मिला। हालांकि पुलिस प्रशासन द्वारा यातायात व्यवस्था को सुधारने की कवायद लगातार की जाती रही। नीजि वाहनों से बड़ी संख्या में पर्यटकों की आमद के चलते ऋषिकेश से लेकर तपोवन तक की सड़कों पर जाम के कारण लोगों को आवाजाही में दिक्कते रही । क्षेत्र में हजारों की तादात में अपने निजी वाहनों से पहुंचने वाले लोगों के कारण ऋषिकेश, मुनिकीरेती से लेकर तपोवन तक का पूरे क्षेत्र में यातायात व्यवस्था पटरी से उतरी रही। जाम से निपटने के लिए अनेकों मार्गो पर रूट डायवर्ट भी प्रशासन द्वारा किया गया था लेकिन इसके बावजूद ट्रेफिक व्यवस्था में झोल बना रहा। 

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: