बम बम से गूंजी तीर्थ नगरी,ड्रोन कैमरे से हो रही निगरानी

बम बम से गूंजी तीर्थ नगरी,ड्रोन कैमरे से हो रही निगरानी

ऋषिकेश-कांवड़ मेले का शुभारंभ होते ही तीर्थ नगरी ऋषिकेश से लेकर मणिकूट पर्वत बम बम के उद्वोषों से गूंजना शुरू हो गया।वृहस्पतिवार को आस्था के पथ पर शिव भक्तों का रैला और उनमें उत्साह भी उमड़ता दिखा।

​ ​


दो वर्ष के कोरोनाकाल के ब्रेक के बाद शुरू श्रावण मास की पावन यात्रा को लेकर शिवभक्तों में इस मर्तबा गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है।मेले के शुभारंभ के साथ ही समूचा कांवड़ मेला क्षेत्र शिवमय हो गया है और नीलकंठ को जाने वाले मार्ग व मणिकूट घाटी भोले के जयकारों से गूंजनी शुरू हो गई है। गुरु पूर्णिमा से श्रावण मास की शुरुआत के साथ ही नीलकंठ की कांवड़ यात्रा का शुभारंभ हो गया था। वृहस्पतिवार को ब्रह्ममुहूर्त से ही नीलकंठ महादेव मंदिर में जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ आई थी। दिन भर मंदिर में जलाभिषेक का क्रम जारी रहा। अत्याधिक भीड़ के कारण मंदिर परिसर में धक्का-मुक्की की स्थिति भी बन गई, जिसे यहां तैनात पुलिसकर्मियों ने किसी तरह काबू किया। वहीं पैदल मार्ग पर करीब एक किलोमीटर लंबी लाइन जलाभिषेक के लिए लगी रही।

ड्रोन कैमरे से हो रही निगरानी

कांवड़ मेले में इस बार भी पुलिस ने भीड़ पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल किया है। मेला क्षेत्र में कंट्रोल रूम से ड्रोन कैमरे के जरिये रामझूला व जानकीपुल के अलावा गंगा घाटों व मार्गों पर गहरी नजर रखी जा रही है। गौरतलब है कि पूर्व के वर्षों में सिर्फ सीसीटीवी कैमरों से मेले के दौरान इस तरह की नजर रखी जाती थी।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: