माधव सेवा विश्राम सदन के 400 बैड के प्रस्तावित विश्राम सदन का किया गया भूमि पूजन

माधव सेवा विश्राम सदन के 400 बैड के प्रस्तावित विश्राम सदन का किया गया भूमि पूजन

कार्यक्रम के दौरान हापुड़ की छात्राओं ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुति

ऋषिकेश- एम्स में आने वाले मरीजों के तीमारदारों ‌के रहने के लिए माधव सेवा विश्राम सदन द्वारा प्रस्तावित 400 बैैड के माधव सेवा विश्राम सदन के निर्माण के लिए रविवार को वीरभद्र मंदिर के निकट भूमि पूजन किए जानेे के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।

​ ​

रविवार को विश्राम सदन केेे दो दिवसीय पूजन व शिलान्यास समारोह के दौरान पहले‌‌ दिन‌ भूमि पूजन के दौरान आयोजित समारोह मेंं उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि विख्यात कथाावाचक विजय कौशल महाराज ने कहा की इस विशाल सदन के बनने के बाद एम्स में आने वाले मरीजों के साथ उनके तीमारदारों को सस्ते दाम पर रहने की सुविधा के साथ अच्छा सुपाच्य भोजन भी मिलेगा । कहा कि, उनकेेे संस्थान का मुख्य उद्देश्य लोगों की सेवा करना है, क्योंकि इस प्रकार के बड़े अस्पतालों की स्थापना सरकार कर देती है , जिन में आने वाले मरीजों का उपचार अस्पताल में हो जाता है। परंंतु उनके साथ आने वालेे तीमारदारों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है । जिसे ध्यान में‌ रखते हुए ऋषिकेश में भी माधव राव देवरस सेवा न्यास ने 400 बेड का विश्राम सेवा सदन बनाए जाने का निर्णय लिया है। इस दौरान‌‌ पूर्वोत्तर व विद्या भारती‌ मंदिर हापुड़ की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमोंं की प्रस्तुति भी ‌‌दी गई जिसमें यह “भूमि कितनी सुंदर और कर्म किसे पुकारे वह बैठे गंगा किनारे” की प्रस्तुति के साथ सामूहिक नृत्य भी किया। इस दौरान भाऊराव देवरस सेवा न्यास के प्रकल्प प्रमुख संजय गर्ग ने बताया कि अभी तक भाऊराव देवरस सेवा न्यास द्वारा देशभर में 5 विश्राम सदन ‌बनाए गये हैं और यह छठे सेवा सदन का निर्माण करने जा रहा है । इस सेवा संस्थान का‌‌ गठन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की प्रेरणा से किया गया था, जिसके पश्चात देशभर में न्यास द्वारा सेवा सदन चलाए जा रहे हैं । जिसके अंतर्गत ग्रामीण सेवा बस्तियों में सचल उपचार सुविधा और शहरी क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवा केंद्र के अतिरिक्त नेत्र चिकित्सा शिविर और विकलांग सहायता सेवा ‌‌‌‌ प्रकल्प् भी चलाए जा रहे हैं । अनेक प्रकल्प के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं को प्रशिक्षण रोजगार व अपना काम करने के लिए व्यवस्था की जा रही है । दिल्ली के अस्पतालों में लोगों के लिए उपचार और मोतियाबिंद के ऑपरेशन की व्यवस्था करने के साथ ही चश्मे वितरित किए जा रहे हैं। प्रयाग कुंभ में नेत्र कुंभ का आयोजन किया गया था जिसमें दो लाख लोगों का उपचार और डेढ़ लाख निशुल्क चश्मे वितरित किए गए थे ,जिसके लिए लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी उन्हें शामिल किया गया है। संजय गर्ग ने बताया कि माधव सेवा सदन की स्थापना ऋषिकेश में प्रस्तावित है जिसका शुभारंभ आज भूमि पूजन के साथ किया गया ‌‌‌‌है ,जिसमें आने वाले अतिथियों के लिए 400 बेड की रहने की व्यवस्था की जाएगी ।जिसमें कम दाम पर भोजन के साथ कमरे उपलब्ध रहेंगे। जिसका निर्माण 3:50 एकड़ में किया जाएगा। जिसमें रहने के लिए बेड की व्यवस्था ₹50 और ₹25 में भोजन के साथ ₹10 में जलपान दिया जायेगा। जो कि पूरी तरह वास्तुशिल्प संरचना के अनुसार बनाया जाएगा । जिसमें भोजनालय , साहित्य केंद्र व सभागार के अतिरिक्त भजन, कीर्तन ,सत्संग एवं ध्यान कक्ष के नेचुरोपैथी योग एवं पंचकर्म की सुविधा भी उपलब्ध होगी ,तो वही निशुल्क नेत्र परीक्षण एवं चश्मों का वितरण भी किया जाएगा ।इस दौरान ट्रस्ट के ओम प्रकाश गोयल, मनोज अग्रवाल, राहुल सिंह, राम अवतार ,संजय गर्ग,संदीप गुप्ता,अनिल मित्तल, सुदामा सिंघल,भास्कर बिजल्वाण,कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल, महापौर अनिता ममगाईं,श्याम बिहारी,संदीप मल्होत्रा, रितेंद्र चौहान,डॉ बिजेंद्र सिंह,डॉ विनोद,अमित वत्स,दीपक तायल,दिनेश सती,कपिल गुप्ता सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: