इस्ट सम्मान से नवाजी गई समाजसेविका सीता प्याल

इस्ट सम्मान से नवाजी गई समाजसेविका सीता प्याल

ऋषिकेश-मां धारी देवी एवं भगवान श्री नागराजा दिव्य देव डोली शोभा यात्रा आज ऋषिकेश पहुंची। ऋषिकेश में कई स्थानों पर देव डोली शोभा यात्रा का पुष्पवर्षा के साथ स्वागत किया गया।

​ ​


श्यामपुर दिल्ली फार्म पहुंचने पर देव डोली का अंतरराष्ट्रीय गढ़वाल महासभा द्वारा भव्य स्वागत किया गया महासभा की उपाध्यक्ष सीता पयाल ने आरती पूजन कर एवं शोभा यात्रा में पधारे सभी गणमान्य भक्तों का माल्यापर्ण कर स्वागत एवं सम्मान किया एवं भोजन प्रसाद वितरण किया। देव डोली शोभा यात्रा के संयोजक आचार्य सुरेंद्र प्रसाद सुंदरियाल ने बताया कि देव डोली 8 जून बुधवार को देहरादून से प्रारंभ हुई 9 जून को देव डोली देवप्रयाग संगम में स्नान कराने के बाद रुद्रप्रयाग एवं कलियासोड श्रीनगर से होते हुए आज ऋषिकेश पहुची। रात्रि विश्राम कालू सिद्ध मंदिर हरिपुर कलां में करने के पश्चात सुबह डोली यात्रा मेरठ होते हुवे दिल्ली एवं हरियाणा के लिए प्रस्थान करेगी। आचार्य सुंदरियाल ने बताया कि यात्रा का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड की प्राचीन देव संस्कृति का प्रसार प्रचार करना है। इस अवसर पर उनके साथ आचार्य मधुसूदन जुयाल,आचार्य राजदीप भट्ट, मनोज धस्माना,सिताम्बर सिंह पंवार उपस्थित थे। शाम को देव डोली यात्रा का शत्रुघ्न घाट मुनि की रेती में महंत मनोज द्रीवेदी ने मां गंगा आरती स्थल में स्वागत किया। इस अवसर पर ईष्ट देव सेवा ट्रष्ट के संस्थापक आचार्य सुरेंद्र प्रसाद सुंद्रियाल जी महाराज ने ईस्ट सम्मान समारोह का आयोजन किया जिसमें मुख्य रुप से समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी, उत्तम सिंह असवाल, महंत मनोज द्विवेदी एवं आचार्य सुभाष डोभाल को ईस्ट सम्मान से सम्मानित किया गया।इस मौके पर समाजसेवी कुसुम जोशी,कमला नेगी,पूर्व प्रधान सुनीता रावत,प्रकाश नेगी,शोभा चौहान, उषा रावत,सुलोचना रावत,माधुरी कंडारी,आरती जुयाल,मालती देवी, रोहणी थपलियाल,विधाता रावत, रामचन्द्र रमोला,चंद्रा नेगी,अंकित नैथानी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: