विविध आयामों, संकल्पों और उद्घोषणाओं के साथ सेवा सप्ताह महोत्सव सम्पन्न

विविध आयामों, संकल्पों और उद्घोषणाओं के साथ सेवा सप्ताह महोत्सव सम्पन्न

ऋषिकेश- परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती के 70 वें जन्मदिवस के अवसर पर आयोजित सेवा सप्ताह महोत्सव की आज पूर्णाहुति विविध आयामों, संकल्पों और उद्घोषणाओं के साथ हुई।

​ ​



परमार्थ निकेतन में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने सभी का आह्वान करते हुये कहा कि 21 जून को भारत सहित पूरा विश्व आठवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मना रहा है, जो कि ’मानवता के लिए योग’ विषय के साथ मनाया जाएगा। देवभूमि उत्तराखंड का आफिशियल अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस, 2022 का समारोह ’’परमार्थ निकेतन ऋषिकेश’’ में मनाया जायेगा। आज परमार्थ निकेतन गंगा तट पर नदियों को प्रदूषण मुक्त करने तथा अविरल व निर्मल बनाये रखने हेतु जनजागरूकता के लिये बंगाल से आये कलाकारों ने ’’रिवर डांस’’ के माध्यम से संदेश दिया कि नदियाँ कल-कल छल-छल करती नृत्य करती रहे। स्वामी चिदानंद ने सभी को नदियों को प्रदूषण और प्लास्टिक मुक्त रखने का संकल्प कराया।सेवा सप्ताह महोत्सव के माध्यम से राष्ट्र, पर्यावरण, नदियों और भारतीय संस्कृति को समर्पित अनेक गतिविधियों का आयोजन के साथ दिव्य कृतियों का भी विमोचन हुआ। हैं।स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि पत्रकार समाज और राष्ट्र के पैरोकार और पहरेदार है इसलिये अपने लेखों, तथ्यों और आंकड़ों में प्रामाणिकता और प्रासंगिकता रखे। पत्रकारिता में नैतिक सिद्धान्तों, बौद्धिक संपदा, ज्ञान, कौशल, एथ्क्सि और विशिष्ट मानकों का होना नितांत आवश्यक है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: