गंगा दशहरा पर्व पर हजारों श्रद्धालुओं के साथ महापौर ने लगाई आस्था की डुबकी

गंगा दशहरा पर्व पर हजारों श्रद्धालुओं के साथ महापौर ने लगाई आस्था की डुबकी

गंगा अवतरण दिवस पर व्यवस्थाओं को बनाने में प्रशासन ने झोंकी ताकत

प्रशासन का ट्रेफिक प्लान रहा कारगर,नियंत्रण में रही यातायात व्यवस्था

ऋषिकेश-करोड़ों देशवासियों की आस्था की प्रतीक माने जाने वाली मां गंगा के अवतरंण दिवस पर तीर्थ नगरी में हजारों श्रद्वालुओं के साथ साथ महापौर अनिता ममगाईं ने भी पति डा हेतराम ममगाई सहित आस्था की डुबकी लगाई।

​ ​


देवभूमि ऋषिकेश में गंगा दशहरा का पर्व प्रशासन के तगड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच श्रद्वा और उल्लास के साथ मनाया गया। मां गंगा के अवतरण दिवस के रूप में मनाया जाने वाले महापर्व के दौरान नगर की हद्वय स्थली त्रिवेणी घाट सहित राम झूला एवं लक्ष्मण झूला के तमाम घाटों पर भी दिनभर स्नान एवं दान पुण्य का सिलसिला अनवरत चलता रहा। गंगा दशहरा के महापर्व पर पति संग महापौर अनिता ममगाई भी गंगा तट त्रिवेणी घाट पहुंची और आस्था की डुबकी लगाई।इस मौके पर स्नानार्थियों सहित शहरवासियों को पर्व की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि आज के ही दिन गंगा धरती पर अवतरित हुई थीं। गंगा ने भागीरथ के पुरखों का उद्धार किया था।आज हम सबकी जिम्मेदारी है कि गंगा की अविरलता को बनाए रखने के लिए मिलजुल कर भागीरथ प्रयास करें ताकि आस्था की प्रतीक मां गंगा को मैला होने से बचाया जा सके।इससे पूर्व महापौर ने गंगा दशहरा पर्व पर प्रशासन द्वारा किए गये इंतजामों का भी जायेजा लिया। मौके पर उन्होंने घाट का रखरखाव करने.वाली गंगा सभा के इंतजामों को भी परखा।इन सबके बीच तड़के से ही स्नानार्थियों की भारी भीड़ गंगा तटों पर उमड़नी शुरू हो गई थी।दोपहर 12 बजे गंगा सभा द्वारा दुग्धाभिषेक के साथ मां गंगा का विशेष आयोजन किया गया जिसमें हजारों श्रद्वालु शामिल हुए।उधर देशभर से आने वाले श्रद्वालुओं को अनावश्यक परेशानियों से बचाने के लिए प्रशासन द्वारा आज विशेष रूप से ट्रेफिक प्लान लागू किया गया था।जिसका सार्थक परिणाम भी देखने को मिला ।खासतौर पर सामान्य दिनों के मुकाबले गंगा दशहरा महापर्व के बावजूद यातायात व्यवस्था पूरी तरह से कंट्रोल में नजर आई।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: