केदारनाथ आपदा की बाढ़ से क्षतिग्रस्त पुलिया के पुनर्निर्माण की जगी आस

केदारनाथ आपदा की बाढ़ से क्षतिग्रस्त पुलिया के पुनर्निर्माण की जगी आस

ऋषिकेश-राजकीय पॉलिटेक्निक खदरी श्यामपुर के समीपस्थ मुख्य मार्ग पर वर्ष 2013 में केदारनाथ आपदा की बाढ़ से क्षतिग्रस्त पुलिया के पुनर्निर्माण की आस अब जगने लगी है।



लम्बे समय से उक्त पुलिया के पुनर्निर्माण न होने की शिकायत स्थानीय नागरिक एवं जिला गंगा सुरक्षा समिति के नामित सदस्य विनोद जुगलान द्वारा कई बार विभाग से की गई।लेकिन समस्या का निस्तारण न होने पर जुगलान द्वारा 20 जून 2018 को सीएम हेल्पलाइन में शिकायत संख्या 24394 के माध्यम से की गई।जिसका संज्ञान लेते हुए तत्कालीन जिलाधिकारी डॉ सी रवि शंकर ने मुख्य विकास अधिकारी को प्रश्नगत पुलिया के पुनर्निर्माण का प्रस्ताव तैयार कर जिला योजना 2020 प्रस्तावित कर सुनिश्चित करने व तत्कालीन उपजिलाधिकारी को उक्त पुलिया के निरीक्षण कर आख्या मुख्य विकास अधिकारी सहित जिलाधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे।किन्तु ढाई वर्ष बीत जाने के बाद भी जब समस्या का हल नहीं हुआ तो शिकायत कर्ता द्वारा पुनः पत्राचार कर पुलिया के पुनर्निर्माण की माँग की गई।बीते दिनों समाचार प्रकाशित होने के बाद लोक निर्माण विभाग निर्माण खण्ड ऋषिकेश के सहायक अभियन्ता सतीश कुमार बमनिया द्वारा वीर वार को उक्त पुलिया का भौतिक निरीक्षण किया गया।मौके पर उपस्थित समिति के सदस्य विनोद जुगलान ने विभागीय अधिकारी को बताया कि यह पुलिया न केवल राजकीय पॉलिटेक्निक संस्थान को जोड़ती है बल्कि ग्रामीणों के लिए भी जीवन रेखा का कार्य करती है।इस लिए किसी भी अनहोनी से पूर्व उक्त पुलिया के निर्माण जरूरी है।पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता सतीश कुमार ने शीघ्र ही पुलिया के पुनर्निर्माण के लिए स्थानीयों को आश्वस्त किया है।मौके पर ग्राम विकास समिति के अध्यक्ष पूर्व छात्र नेता शान्ति प्रसाद थपलियाल,रमेश सिंह,मगत सिंह,पीडब्ल्यूडी के मेट जया नंद कण्डवाल,सोहन सिंह पयाल आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: