सोमवती अमावस्या पर श्रद्वालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

सोमवती अमावस्या पर श्रद्वालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

ऋषिकेश-शनिवार को सोमवती अमावस्या पर्व के चलते तीर्थ नगरी में गंगाघाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ रही। हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगाई। गंगा मैया का पूजन किया। जरूरतमंदों को दान दिया। कुष्ठ रोगियों को भोजन कराकर पुण्य कमाया। दिनभर गंगा घाट हर-हर गंगे के स्वर गूंजते रहे।



बेहद गर्म दिन के बावजूद भारी तादात में श्रद्वालुओं ने योग नगरी ऋषिकेश का रुख किया।पौं फटने से पूर्व ही नगर की हद्वय स्थली त्रिवेणी घाट पर श्रद्वालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरु हो गया था। श्रद्धालुओं ने गंगा मैया का दुग्धाभिषेक किया और चुनर उड़ाई। स्नान और पूजा के बाद जरूरतमंदाें को दान दिया। कुष्ठ रोगियों को भोजन कराया। ब्राह्मणों को भी दान दिया। कुछ श्रद्धालुओं ने बच्चों के मुंडन भी कराए। पर्व पर गंगा स्नान कोदेखते हुए व्यवस्थाएं चाक चौबंद थी। घाटों पर पुलिस की तैनाती थी।बताते चले कि पिछले दो वर्ष से
कोरोना संक्रमण के चलते तमाम स्नान पर्व सूने ही रह गए थे। दूरदराज से आने वाले स्नानार्थी गंगा स्नान को नहीं पहुंच रहे थे। क्योंकि घाटों पर स्नान पर पाबंदी थी। इतना ही नही विभिन्न प्रदेशों के स्नानार्थियों के लिए कोविड की आरटीपीसीआर रिपोर्ट भी लाना अनिवार्य था, लिहाजा स्नान पर्व पर घाट सूने ही रहे थे। इस बार सोमतवी अमावस्या पर पाबंदियां नहीं रही तो स्नानार्थियों की भीड़ रही।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: