देवभूमि में दुर्गा अष्टमी पर्व श्रद्वा और उल्लास के साथ मनाया गया

देवभूमि में दुर्गा अष्टमी पर्व श्रद्वा और उल्लास के साथ मनाया गया

ऋषिकेश-देवभूमि ऋषिकेश आज पूरी तरह से मां वैष्णवी के रंग में रंगी नजर आई।शहरवासियों के साथ कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने अपने आवास एवं महापौर अनिता ममगाई ने अपने कैम्प कार्यालय पर विधिपूर्वक कन्या पूजन किया।


शनिवार को दुर्गा अष्टमी पर घर-घर में कंजक पूजन हुआ। धर्म प्रेमियों ने पावन पर्व श्री दुर्गाष्टमी पर्व कंजकों की पूजा कर धूमधाम से मनाया। शहर पूरी तरह मां भगवती की भक्ति के रस में डूबा नजर आया। अर्चना करने वाले साधकों को कन्या पूजन के लिए कन्याओं को ढूंढ़ने में मशक्कत का सामना भी करना पड़ा। मां के उपासकों ने पूरे विधिविधान पूर्वक 7, 9 11 कन्याओं का श्रद्धापूर्वक पूजन किया। सुबह पहले श्रद्धालुओं ने मंदिरों में जाकर मां दुर्गा की आराधना की। इसके बाद अपने घरों में पहुंच कर देवी स्वरूप कंजकों को भोजन करवाया। पूजन के लिए आमंत्रित सभी कंजकों के गंगाजल से पैर धोकर उनके माथे पर तिलक किया। बाद में सभी कंजकों को हलवा, पुरी का भोजन करवा कर उनका आशीर्वाद लिया। साथ ही सभी कंजकों को उपहार भेंट कर विदा किया गया। कंजकों को भोजन करवाने के बाद ज्यादातर घरों में आठवें नवरात्र पर पूजन के बाद व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं ने आज अपना व्रत खोल लिया। सात दिनों से श्रद्धालुओं ने व्रत रखा हुआ था। कई घरों में नवमी के अवसर पर यही विधि अपनाकर व्रत खोले जाने हैं। अष्टमी के चलते मंदिरों में दिनभर भारी भीड़ रही।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: