श्रीमद् भागवत कथा के श्रवण से ही जीवन का हो जाता है उद्वार-कृष्णाचार्य महाराज

श्रीमद् भागवत कथा के श्रवण से ही जीवन का हो जाता है उद्वार-कृष्णाचार्य महाराज

ऋषिकेश-पंजाब सिंध क्षेत्र के73 वां मंगल महोत्सव में चल रही श्रीमद् भागवत ज्ञान महायज्ञ में पहुंचे कृष्ण कुंज आश्रम के संस्थापक अध्यक्ष उत्तराखंड पीठाधीश्वर जगतगुरु कृष्णाचार्य महाराज ।



इस अवसर पर आज उत्तराखंड पीठाधीश्वर जगतगुरु कृष्णाचार्य महाराज का ऋषि कुमारों आचार्यों द्वारा स्वागत किया गया। महाराज श्री को अशोक कुमार अरोड़ा विनोद घई ,प्रमोद बजाज, महंत रवि प्रपन्नाचार्य महाराज ने उत्तरीय पहनाकर उनका अभिनंदन किया।
व्यासपीठ पर विराजमान भागवताचार्य रमेश उनियाल के द्वारा की जा रही श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ में पहुंचे उत्तराखंड पीठाधीश्वर जगतगुरु कृष्णाचार्य महाराज अपने मुखारविंद से श्रीमद् भागवत महापुराण का सार बताते हुए सभी भक्तों को बताया कि इस कलिकाल में जो भी भक्त प्रभु का अंतर करण से सेवा भाव समर्पण के द्वारा प्रभु का भजन व गौ सेवा करता है उसको वैकुण्ठ धाम की प्राप्ति होती है।इस अवसर पर भागवत कथा का संचालन कर रहे तुलसी मानस मंदिर के महंत रवि प्रपन्नाचार्य महाराज ने आए हुए सभी क्षेत्र के ट्रस्टियों का दिव्य कथा महोत्सव के लिए आभार जताया।इस अवसर पर अशोक कुमार अरोड़ा, श्रीमती रीता अरोड़ा, प्रदीप अरोड़ा ,विनोद घई , प्रमोद बजाज ,राजेश भारद्वाज, पार्षद रीना शर्मा, पंडित वेद प्रकाश शर्मा , रश्मी , परवीन घई सहित बड़ी संख्या में धर्मप्रेमी जनता मोजूद रही।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: