जयेंद्र रचेंगे इतिहास या प्रेम लगायेंगे जीत का चौका?

जयेंद्र रचेंगे इतिहास या प्रेम लगायेंगे जीत का चौका?

जनादेश की उल्टी गिनती शुरू होते ही बढ़ने लगी धड़कने!

चुनावी नतीजों के इंतजार में सर्मथकों की उढ़ी नींदें

ऋषिकेश- उत्तराखंड के चुनावी नतीजों का इंतजार अब जल्द खत्म होने को है। दस मार्च को जनादेश आना है।सत्ता के संग्राम में भाजपा और कांग्रेस के बीच इस मर्तबा कांटे के संघर्ष की आंशका सियासी पंडितों द्वारा व्यक्त की गई है।



ऋषिकेश विधानसभा सीट पर भी संकेत यही हैं कि इस बार परिणाम अप्रत्याशित और चौकाने वाला आ सकता हैं।इस चुनाव में जहां जीत की हैट्रिक लगा चुके भाजपा प्रत्याशी प्रेमचंद अग्रवाल की प्रतिष्ठा दांव पर है वहीं यह चुनाव कांग्रेस के प्रत्याशी जयेंद्र रमोला का राजनैतिक भविष्य भी तय करेंगे।यदि परिणाम कांग्रेस के पक्ष में गया तो यकीन मानिए वह ऋषिकेश विधानसभा में निश्चित ही एक लंबी पारी खेलेंगे ।वहीं दूसरी और जीत की हैट्रिक लगाकर विधानसभा अध्यक्ष बने प्रेमचंद अग्रवाल के लिए भी चुनावी नतीजे उनका राजनैतिक भविष्य तय करने में निर्णायक भूमिका निभा सकते हैं।निगाहें उजपा प्रत्याशी कनक धनाई के प्रदर्शन पर भी ऋषिकेश की जनता की लगी हैं।राजनीति की समझ रखने वाला हर शख्स यह जानने को बेताब है कि कनक की परफॉर्मेंस भाजपा अथवा कांग्रेस का कहीं खेल ना बिगाड़ दे।ऐसे में हर कोई ये जानने के लिए बेताब है, कि इस बार यहां विधायक की शपथ कौन लेगा।इन सबके बीच जनादेश की उलटी गिनती शुरू होते है चुनावी रणक्षेत्र के तमाम योद्वाओं के सर्मथकों के दिलों की धड़कनें बड़नी शुरू हो गई हैं।खासतौर पर कांग्रेस एवं भाजपा प्रत्याशी के सर्मथक बेचैन होने शुरू हो गये हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: