ऑफलाइन परिक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए जुटे शिक्षण संस्थान

ऑफलाइन परिक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए जुटे शिक्षण संस्थान

ऑनलाइन पढाई में ही चला अधिकाशतः मोजूदा सत्र

ऋषिकेश- कोविड 19 महामारी के बाद पढ़ाई की रफ्तार मंद पड़ गई थी। हालांकि अब ओमीक्रान वेरिएंट की रफ्तार सुस्त पढ़ने के बाद शिक्षण संस्थाओं की तैयारी
ऑफलाइन शिक्षा को रफ्तार देकर सफलतापूर्वक इग्जाम सम्पन्न कराने को लेकर है।



अधिकांश स्कूलों में मार्च माह में परीक्षाएं सम्पन होनी है।इन दिनों तमाम शैक्षणिक संस्थाएं बच्चों के कोर्स पूरा कराने के लिए जुटी हुई हैं।गौरतलब है कि कोविड कहर के बीच मोजूदा सत्र में ऑनलाइन पढ़ाई का दौर तो चलता रहा लेकिन, तैयारियां अधूरी ही रहीं।हांंलाकि हालात सुधरने के बाद स्कूलों में शैक्षणिक गतिविधियों ने रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया। कोर्स पूरा कराने में भी शिक्षक जुट गए हैं। ऋषिकेश इंटरनेशनल स्कूल के सचिव कैप्टन सुंमत डंग ने बताया कि इस शिक्षा सत्र में अधिकांश पढ़ाई ऑनलाइन हुई।तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद सभी कक्षाओं में कोर्स पूरा करा लिया गया है।रिवीजन टेस्ट के जरिए बच्चों की तैयारियों को परखा जा जा रहा है। पॉली किड्स स्कूल के संस्थापक वैभव सकलानी के अनुसार 1 मार्च से 10 मार्च तक परीक्षाएं संपन्न करानी है इसके लिए बच्चों के रिवीजन टेस्ट चल रहे हैं। चंदेश्वर नगर स्थित ज्ञान करतार पब्लिक स्कूल के संस्थापक गुरूविंदर सलूजा ने बताया कि इस सत्र में ऑनलाइन से पढ़ाई तो हुई लेकिन, परीक्षा की तैयारी सही ढंग से नहीं हो पा रही थी। कक्षा शुरू होने से तैयारी ने रफ्तार पकड़ी है।उन्होंने जानकारी दी कि 19 मार्च से स्कूल में फाइनल एग्जाम होने हैं। 1 मार्च से 18 मार्च तक रिवीजन टेस्ट कराए जाएंगे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: