ओमीक्रान के खतरे के बीच शिक्षण संस्थाओं ने एक बार फिर ऑनलाइन पढ़ाई पर किया फोकस

ओमीक्रान के खतरे के बीच शिक्षण संस्थाओं ने एक बार फिर ऑनलाइन पढ़ाई पर किया फोकस

ऋषिकेश-कोरोना के नये वेरिएंट ओमीक्रान के बड़ते खतरे के बीच में एक बार फिर आनलाइन पढ़ाई का सहारा लिया जा रहा है। उत्तराखंड में अगले आदेश तक इंटरमीडिएट तक सभी विद्यालय बंद करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।


तीर्थ नगरी की शैक्षणिक संस्थाओं की बात करें तो प्रधानाचार्यों ने शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई कराने के निर्देश दे दिए हैं। शिक्षकों ने एक बार फिर वाट्सएप ग्रुप सक्रिय कर दिए हैं । छात्र-छात्राओं को भी पढ़ाई के लिए संदेश भेजे जा रहे हैं।कोरोनाकाल में सबसे ज्यादा पढ़ाई प्रभावित हुई है। एक बार फिर कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए विद्यालय का अवकाश 16 फरवरी तक घोषित कर दिया गया था ।अब इसे अगले आदेश तक और आगे बड़ा दिया गया है।ढालवाला स्थित ऋषिकेश इंटरनेशनल स्कूल के सचिव कैप्टन सुंमत डंग ने बताया स्कूल प्रंबधन ने छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन
पढ़ाई कराने के लिए तैयारी कर ली है । वाट्सएप ग्रुप पहले से ही तैयार होने के कारण पढ़ाई शुरू कराने में दिक्कत ज्यादा नहीं आ रही है। इन ग्रुपों को सक्रिय किया जा रहा है। विद्यालय की प्रिसिंपल डॉ कोयली चक्रवर्ती ने जानकारी दी कि शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई कराने के लिए निर्देशित कर दिया गया है।प्रयास किया जा रहा है कि छात्र-छात्राओं को बेहतर पढ़ाया जा सके और उनकी पढ़ाई प्रभावित न हो। समयसारिणी के अनुसार ही पढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। उधर पॉली किड्स स्कूल के निदेशक वैभव सकलानी व ज्ञान करतार पब्लिक स्कूल के संस्थापक गुरूविंदर सलूजा ने बताया कि स्कूल मेंं ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करा दी गई है ।वाट्सएप ग्रुपों को सक्रिय कर दिया गया है । शिक्षकों को पढ़ाई कराने के दिशा निर्देश पहले दिए गए थे ।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: