कोहरे की चादर के आगोश में लिपटी तीर्थ नगरी!

कोहरे की चादर के आगोश में लिपटी तीर्थ नगरी!

ऋषिकेश- कड़कड़ाती ठंड अब लोगों के लिए असहनीय हो गई है। सोमवार को भी तीर्थ नगरी में मौसम बेहद ठंडा रहा। आसमान पर छाए बादलों व कोहरे के धुंध के चलते धूप नहीं दिखी। सर्दी और शीतलहर की मार से बचने के लिए लोग घरों में ही कैद रहे। बाजारों में भी ग्राहकों का आवागमन कम रहा।


पिछले चार -पांच दिन से सर्दी के कारण आम जनजीवन पस्त है। शीतलहर के सितम से हर कोई बेहाल है।खासतौर पर आसराविहिनों के लिए मुसिबतें दूनी हो गई हैं। धूप नहीं निकलने से लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं।बाजारों में इसका साफ प्रभाव देखा जा रहा है।ठंड से बचने के लिए लोगों को अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है। घरों में भी लोग रूम हीटर का प्रयोग कर रहे हैं। कोहरे के साथ बादलों के छाए रहने से फसलों पर पाले का खतरा भी बढ़ गया है। खेतों में दिनभर ओस टपकते रहने से खेतों में काम करना भी मुश्किल हो रहा है। पर्यावरण विद् विनोद जुगलान बताते हैं नमी के चलते फसलों में नुकसान की संभावना रहती है। कीटनाशकों के प्रयोग से इसका बचाव किया जा सकता है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: