उत्तरांचल पंजाबी महासभा कोरोना के नये वेरिएंट के खतरे को देख अब सादगी से साथ पारम्परिक रूप से मनायेगी लोहड़ी महोत्सव

उत्तरांचल पंजाबी महासभा कोरोना के नये वेरिएंट के खतरे को देख अब सादगी से साथ पारम्परिक रूप से मनायेगी लोहड़ी महोत्सव

ऋषिकेश-ओमीक्रान के लगातार बड़ते जा रहे खतरे को देखते हुए उत्तरांचल पंजाबी महासभा ने सादगी के साथ पाारम्परिक रुप से लोहड़ी महोत्सव आयोजित करने का निर्णय लिया है।



महासभा के अध्यक्ष केवल कृष्ण लांबा की अध्यक्षता में आहुत हुई बैठक में उक्त निर्णय लिया गया।बैठक की जानकारी देते हुए महामंत्री प्रदीप कोहली ने बताया कि तमाम सदस्यों ने लोहड़ी महोत्सव धूमधाम से मनाये जाने के पूर्व में हुए निर्णय पर वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए सर्वसम्मति से तय किया कि मोजूदा हालात में एक बड़ा आयोजन कोरोना की दृष्टि से जोखिम भरा साबित हो सकता है ।ऐसे में तिलक मार्ग पर 13 जनवरी को लोहड़ी पर्व पारम्परिक रूप से ही मनाया जाये। बैठक में प्रतीक कालिया, अमृत लाल कालड़ा, हरिचरण सिंह,ज्योति शर्मा, धीरज चतरथ,गगनदीप बेदी,प्रिंस मनचंदा,अजय कालड़ा, अविनाश भारद्वाज आदि मोजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: