जीवनदान के साथ-साथ इंसानियत के बीच भेदभाव को खत्म करता है रक्तदान-अनिता ममगाई

जीवनदान के साथ-साथ इंसानियत के बीच भेदभाव को खत्म करता है रक्तदान-अनिता ममगाई

सैल्यूट तिरंगा संस्था द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर का मेयर ने किया शुभारंभ

ऋषिकेश- देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई के जन्म दिवस के मौके पर सैल्यूट तिरंगा संस्था द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। स्थानीय व्यापार सभा भवन में एम्स की ब्लड बैंक की टीम के सहयोग से आयोजित शिविर में बड़ी संख्या में युवाओं ने पुनित यज्ञ में रक्तदान कर आहुति दी।



शनिवार को देहरादून रोड स्थित व्यापार सभा में सहयोग सैल्यूट तिरंगा संस्था द्वारा आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान शिविर बेहद सफल आयोजन साबित हुआ। कैम्प का बतौर मुख्य अतिथि शुभारंभ करते हुए नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने कहा कि आज पूरा देश अटल जयंती मनाकर देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी को नमन कर रहा है।इस दिन विशेष पर सैल्यूट तिरंगा संस्था ने अपनी राष्ट्रीय और सामाजिक सोच के साथ रक्त शिविर आयोजित कर अपनी संस्था के नाम को चरितार्थ कर दिखाया है।महापौर ने कहा ब्लड यानी रक्त एक ऐसी चीज है जिसे बनाया ही नहीं जा सकता। इसकी आपूर्ति का कोई और विकल्प भी नहीं है। यह इंसान के शरीर में स्वयं ही बनता है। कई बार मरीजों के शरीर में खून की मात्रा इतनी कम हो जाती है कि उन्हें किसी और व्यक्ति से ब्लड लेने की आवश्यकता पड़ जाती है। ऐसी ही इमरजेंसी स्थिति में रक्त का महत्व समझ में आता है।
रक्तदान जीवनदान है। हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिंदगियों को बचाता है। इस बात का अहसास हमें तब होता है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिंदगी और मौत के बीच जूझता है। उस वक्त हम नींद से जागते हैं और उसे बचाने के लिए खून के इंतजाम की जद्दोजहद करते हैं।महापौर ने कहा रक्तदान जीवनदान के साथ साथ इंसानियत के बीच भेदभाव को भी खत्म कर देता है।उन्होंने युवाओं से आगे बढ़कर शहर में आयोजित होने वाले तमाम रक्तदान शिविरों में बढ़ चढ़कर आगे आने का आह्वान भी किया।इस दौरान संस्था के प्रदेश अध्यक्ष कौशल गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष शरद तायल,जिलाध्यक्ष आशीष गोयल ,अजय कालड़ा,सहित विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े प्रतिनिधि मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: