सैन्य धाम का नाम सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम से जाना जाए : राजपाल खरोला

सैन्य धाम का नाम सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम से जाना जाए : राजपाल खरोला

ऋषिकेश-उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश महासचिव राजपाल खरोला ने जानकारी देते हुए बताया की आज ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र में उत्तराखंड के गौरव, तीनों सेना के अध्यक्ष बिपिन रावत को श्रद्वांजलि अर्पित की गई।


खरोला ने कहा की सेना के सर्वोच्च अधिकारी का असामयिक निधन देश और विशेष रूप से उत्तराखंड के लिए अपूर्णीय क्षति है। शौर्य एवं पराक्रम के शीर्ष पर अजेय रहे, भारत के वीर सपूत, उत्तराखंड के लाल, भारतीय सेना के प्रथम सीडीएस जनरल बिपिन रावत के योगदान को यह देश कभी नहीं भूलेगा।खरोला ने कहा की उत्तराखंड ऐसा राज्य है जहाँ लगभग हर परिवार से कोई सदस्य सेना में जाकर देश की सेवा कर रहा है उन तमाम सैन्य परिवारों और देश के समस्त सैन्य परिवारों के साथ हर भारतीय आज सीडीएस जनरल बिपिन रावत को भावभीनी श्रद्वांजलि दे रहा है ।खरोला ने कहा की जनरल रावत ने अदम्य साहस के साथ देश की सेवा की।उनके रणनीतिक कौशल के चलते चीन और पाकिस्तान की सेनाएं भी उनसे घबराती थीं।खरोला ने सरकार से मांग करते हुए कहा की देहरादून में बन रहे सैन्य धाम का नाम प्रथम सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम से जाना जाए और उत्तराखंड बोर्ड के पाठ्यक्रम में बिपिन रावत के देश के प्रति दिए योगदान को पाठ्क्रम में शामिल किया जाए जिससे बच्चे को भारत के वीर सपूत के बारे में जान सके। श्रद्वांजलि अर्पित करने वालों में सुधीर राय, मदन मोहन शर्मा, अरविन्द जैन, भगवान सिंह पवार, मधु जोशी, राजेन्द्र गैरोला, उमा ओबराय, अशोक सडाना, जितेन्द्र पाल पाठी, जतिन जाटव, अभिषेक शर्मा, जयपाल सिंह, जीतेन्द्र यादव, सोनू पाण्डेय, एकांत गोयल, राहुल पाण्डेय आदि शामिल रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: