केंद्र सरकार ने महंगाई डायन के खुर किए और नुकीले!

केंद्र सरकार ने महंगाई डायन के खुर किए और नुकीले!

ऋषिकेश-मंहगाई डायन खाए जात है।पिपली लाईव फिल्म का यह गीत मोजूदा समय में आम हो या खास हर किसी पर फिट बेठ रहा है।


महंगाई की मार से आम आदमी की हालत खराब है। पेट्रोल और डीजल के साथ-साथ खाने-पीने का सामान, सबकुछ पहले ही महंगा हो गया था।बची कुची कसर आज से मोबाइल रिचार्ज के दाम बड़ने से पूरी हो गई है।टी वी देखना भी सरकार ने मंहगा कर दिया है।झटका यहीं तक ही सीमित नही है।क्रेडिट कार्ड पर भी उपभोक्ताओं को अधिक मार झेलनी होगी।इसके अलावा माचिस के दामों में दुगुनी की वृद्धि के साथ पीएनबी के खाताधारकों को भी सरकार द्वारा तगड़ा करंट लगा दिया गया है। महंगाई के मुद्दे पर विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों से बात की गई तो एक स्वर में सब ने माना कि केन्द्र सरकार महंगाई के मुद्दे पर पूरी तरह से फ्लॉप साबित हो चुकी है। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष ललित मोहन मिश्र ने कहा कि मोबाइल रिचार्ज से लेकर इंटरटेनमेंट और अन्य आवश्यक जरूरी सामान एवं सेवाओं में बेतहाशा मूल्यवृद्धि कर मोदी सरकार ने साबित कर दिया है कि सरकार को देश की आवाम की समस्याओं से कोई सारोकार नही है।
प्रोपर्टी डेवलेपर एंड बिल्डर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय गर्ग के अनुसार महंगाई के मामले में केन्द्र सरकार लगातार गरीबों के मुंह से निवाला छीनने का काम कर रही है।जाड़े के मौसम की शुरुआत में केन्द्र सरकार द्वारा एक बार फिर से देशवासियों पर जो महगाई बम फोड़ा गया है उसका सीधा असर हर देशवासी पर पड़ना तय है।
उत्तरांचल पंजाबी महासभा की ऋषिकेश शाखा के अध्यक्ष केवल कृष्ण लांबा भी महंगाई को लेकर केंद्र सरकार की पॉलिसी से बेहद नाराज नजर आए।उन्होंने कहा कि महंगाई पर अंकुश लगाने में केन्द्र सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है।आम आदमी के साथ व्यापारी वर्ग की उम्मीदों को भी केन्द्र की नीतियों ने तगड़ा झटका देने का काम किया है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: