संविधान दिवस पर शिक्षाविदों ने संविधान निर्माता डॉ भीम राव अंबेडकर को किया नमन

संविधान दिवस पर शिक्षाविदों ने संविधान निर्माता डॉ भीम राव अंबेडकर को किया नमन

ऋषिकेश- किसी भी लोकतंत्र में एक किताब होती है जिसके हिसाब से देश चलता है उसे संविधान कहा जाता है। आज देश में संविधान दिवस मनाया जा रहा है। संविधान दिवस के अवसर पर तीर्थ नगरी में शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ी शख्यितों ने संविधान निर्माता डॉ भीम राव आंबेडकर को नमन किया है।


हरी चंद गुप्ता आदर्श बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाध्यापिका श्रीमती पूनम रानी शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि देश के प्रत्येक नागरिक को अपने संविधान पर गर्व होना चाहिए। उन महापुरुष के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता जो संविधान सभा के केंद्र में रहे। ये महापुरुष थे पूजनीय डॉबाबा साहेब आंबेडकर।उन्होंने करोड़ों भारतीयों को सम्मान से जीने का अधिकार दिया।
पूर्व प्रधानाचार्य डीबीपीएस रावत ने संविधान दिवस पर डॉ बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर को नमन करते हुए कहा कि उनकी बदोलत ही देश को एक प्रगतिशील और लोकतांत्रिक संविधान मिला है। पॉली किड्स पब्लिक स्कूल के निदेशक वैभव सकलानी ने इस अवसर पर कहा कि संविधान का आदर और इसके गौरवशाली प्रावधानों का गंभीरता से पालन करना सभी नागरिकों का परम कर्तव्य है। भारत के लोकतंत्र को बचाने और उसके मर्यादा को कायम रखने के लिए बाबा साहेब डा भीमराव आंबेडकर ने समावेशी समाज का उदाहरण प्रस्तुत किया, भारत उसी मार्ग पर चल रहा है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: