स्वतंत्रता आंदोलन में शहीद केसरी चंद की शहादत को सदैव रखा जायेगा याद-ताजेन्द्र नेगी

स्वतंत्रता आंदोलन में शहीद केसरी चंद की शहादत को सदैव रखा जायेगा याद-ताजेन्द्र नेगी

ऋषिकेश-विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल जी के बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर वीर शहीद केसरी चंद का 102 वे जन्म दिवस के अवसर पर शहीद केसरी चंद के चित्रों पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया गया।



इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष के विशेष कार्यधिकारी ताजेंद्र नेगी ने कहा है कि देश को स्वतंत्रता दिलाने में शहीद केसरी चंद का भूमिका महत्वपूर्ण योगदान रहा। उन्होंने कहा कि साढे 24 वर्ष की आयु में वीर शहीद केसरी चंद को ब्रिटिश सरकार ने देशद्रोह के आरोप में फांसी पर लटका दिया था । इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता रविंद्र राणा ने कहा है कि देवभूमि उत्तराखंड को हमेशा वीर भूमि के नाम से जाना जाता है और देश की आजादी से लेकर अब तक यहां के नौजवानों ने संघर्ष किया । उन्होंने कहा कि आजाद हिंद फौज में उत्तराखंड से 26 सो से अधिक सैनिकों ने प्रतिभाग किया जिसमें शहीद केसरी चंद का महत्वपूर्ण योगदान था ।
श्यामपुर के मंडल अध्यक्ष गणेश रावत ने कहा है कि शहीद केसरी चंद ने जौनसार बावर की थाती में जन्म लिया और देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया । उन्होंने कहा है कि जिस आयु में लोग अपनी रोजी-रोटी की तलाश में भटकते हैं उस आयु में शहीद केसरी चंद ने अपनी जान की बाजी लगाकर देश को आजादी दिलाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष के सूचना अधिकारी भारत चौहान ने कहा है कि शहीद केसरी चंद का जन्मोत्सव देहरादून सहित देश भर मे मनाया जाता है उन्होंने कहा है कि शहीद के योगदान को सीमाओं में नहीं बांधा जा सकता उनके त्याग समर्पण ने संपूर्ण राष्ट्र को एक सूत्र में बांधा और देश को आजादी दिलाई ।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष के विशेष कार्याधिकारी राजेंद्र सिंह नेगी, मंडल अध्यक्ष गणेश रावत, रविंद्र राणा, मोहित राष्ट्रवादी, हरपाल सिंह राणा, अरुण बडोनी, आशीष जोशी, राजेश थपलियाल, भारत चौहान, चमन पोखरियाल, दुर्गेश कुमार, मुकेश, प्रमोद रयाल आदि सहित अनेक लोग उपस्थित थे ।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: