गंगा में बढ़ते हादसे पर्यटन के लिए चितंनीय : राजपाल खरोला

गंगा में बढ़ते हादसे पर्यटन के लिए चितंनीय : राजपाल खरोला

ऋषिकेश-उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश महासचिव राजपाल खरोला ने जानकारी देते हुए बताया की ऋषिकेश का नाम योगनगरी और धर्मनगरी के अलावा पर्यटन के लिहाजा से विश्व प्रसिद्ध है और इसी पर्यटन के कारण यहाँ के हज़ारो लोगो का घर चलता है ।परन्तु बीते 8 महीने मे 18 पर्यटकों का गंगा मे बह जाना चिंता का विषय है जिससे पर्यटकों के अंदर ऋषिकेश के नाम से डर पैदा हो सकता है ।इससे पर्यटन के कारोबार पर निर्भित व्यवसारियोंं की रोजी-रोटी पर भी आने वाले वक्त मे खतरा मंडरा सकता है ।


खरोला ने कहा की बाहर से आये पर्यटकों को ऋषिकेश में पक्के घाटो, संवेदनशील घाटो और अति संवेदनशील घाटो मे फर्क नहीं दिखता क्यूंकि प्रशासन द्वारा कोई भी चेतावनी बोर्ड का वह पर न होना , केवल खानापूर्ति के लिए पत्थरों पर खतरा लिखकर इतिश्री कर दी गई है। महज 8 महीने में 18 पर्यटकों बहे हैं जिसमे 12 के शव बरामद है और 6 का अभी तक कुछ पता ही नहीं चला है।उन्होंने प्रशासन से इस और गंभीरतापूर्वक कोरोना कारवाई की मांग की है ताकि भविष्य में इस तरह के हादसों पर अंकुश लगाया जा सके।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: