सत्ता में हिस्सेदारी को संघर्ष करेगा पंजाबी समुदाय- केवल कृष्ण लांबा

सत्ता में हिस्सेदारी को संघर्ष करेगा पंजाबी समुदाय- केवल कृष्ण लांबा

ऋषिकेश-उत्तरांचल पंजाबी महासभा ने प्रदेश सरकार पर पंजाबी समाज के हितों के प्रति उदासीन रहने का आरोप लगाया है। महासभा के ऋषिकेश शाखा के अध्यक्ष केवल कृष्ण लांबा ने कहा कि उत्तराखंड में आबादी के हिसाब से पंजाबी समाज को सत्ता में भागीदारी नहीं दी जा रही,जिसका आगामी विधानसभा चुनाव में पुरजोर विरोध किया जायेगा।



पंजाबी महासभा के अध्यक्ष के के लांबा ने कहा कि उत्तराखंड में पंजाबी आबादी तकरीबन 30 फीसदी के आसपास है। उस हिसाब से राजनीति और नौकरशाही में इस समाज की हिस्सेदारी नगण्य है। पंजाबी महासभा के अध्यक्ष के के लांबा के अनुसार पंजाबियों ने हमेशा उद्यमिता और पराक्रम की बदौलत संपदा पैदा की है। यह समाज न्याय चाहता है। कहा कि, पंजाबी समाज की तरक्की के लिए मिलकर काम करना होगा। कहा कि ,अब तक कांग्रेस व भाजपा की सभी सरकारों ने पंजाबी समाज की उपेक्षा की है। लेकिन यह उपेक्षा अब और बर्दाश्त नही की जायेगी।उन्होंने कहा कि ऋषिकेश विधानसभा सीट पर जिस भी राष्ट्रीय दल द्वारा पंजाबी चेहरे को चुनावी महासंग्राम में उतारा गया उसका इकतरफा सर्मथन शहर का पंजाबी समाज करेगा।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: