एम्स में आयोजित होने वाली प्रतियोगिता को लेकर निदेशक ने पोस्टर किया जारी

एम्स में आयोजित होने वाली प्रतियोगिता को लेकर निदेशक ने पोस्टर किया जारी

ऋषिकेश-अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में सोसाइटी ऑफ यंग बायोमेडिकल साइंटिस्ट्स, भारत के तत्वावधान में 6 से 10 दिसंबर 2021 को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय जैव चिकित्सा अनुसंधान प्रतियोगिता वार्षिक वैज्ञानिक कार्यक्रम का निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने पोस्टर जारी किया। सोसाइटी के अध्यक्ष व आयोजन सचिव रोहिताश यादव ने बताया कि एम्स, ऋषिकेश तथा पीजीआईएमईआर-चंडीगढ़ में सोसाइटी द्वारा आयोजित पहले और दूसरे राष्ट्रीय जैव चिकित्सा अनुसंधान प्रतियोगिता (NBRCOM) के सफल समापन के बाद एम्स ऋषिकेश में तीसरी वार्षिक अनुसंधान प्रतियोगिता देश के राष्ट्रीय महत्व के 7 अनुसंधान संस्थानों के साथ मिलकर आयोजित की जाएगी। सोसाइटी ऑफ यंग बायोमेडिकल साइंटिस्ट्स एसवाईबीएस की ओर से एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत द्वारा राष्ट्रीय जैव चिकित्सा अनुसंधान प्रतियोगिता 2021 का पोस्टर जारी किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए बहुत खुशी की बात है, कि राष्ट्रीय महत्व व युवा वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करने वाली उक्त प्रतियोगिता की पहल 15 अक्टूबर 2018 को एम्स ऋषिकेश से शुरू की गई थी, जो आज बहुत बेहतर तरीके से संचालित हो रही है तथा इस आयोजन के जरिए देश के युवा वैज्ञानिकों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त हो रहा है।


निदेशक एम्स ऋषिकेश ने सोसाइटी को मेडिकल रोबोटिक तथा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कैटेग्री श्रेणी को भी प्रतियोगिता में सम्मिलित करने व आईआईटी को भी इस आयोजन में भागीदारी बनाने का सुझाव दिया है। प्रो. रवि कांत ने संस्थान की ओर से इस प्रतियोगिता के पुरस्कार की धनराशि के तौर पर 1 लाख रुपए देने की घोषणा की है। इस अवसर पर संस्थान के डीन एकेडमिक प्रो. मनोज गुप्ता ने बताया कि इस तरह की अनुसंधान प्रतियोगिताओं से एम्स ऋषिकेश के शोध विद्यार्थियों व रेजिडेंट्स चिकित्सकों को भी अपने शोध कार्य को प्रस्तुत करने के लिए प्लेटफार्म मिलेगा, जिससे उन्हें आगे बढ़ने के अच्छे अवसर मिल सकेंगे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: