खुंखार बंदरों के आतंक से सहमे बच्चे और महिलाएं!

खुंखार बंदरों के आतंक से सहमे बच्चे और महिलाएं!

ऋषिकेश-शहर में टोलियां बनाकर चलने वाले बंदर अब खूंखार साबित होने लगे हैं। वह गली-मुहल्लों में जमकर उत्पाद मचा रहे हैं, जिससे शहर के हालात बिगड़ने लगे हैं। लोगों में बंदरों को लेकर खासा डर बना हुआ है। बंदरों के आतंक से तीर्थनगरीवासी इन दिनों खासे परेशान हैं।नगर निगम ऋषिकेश के हरिद्वार मार्ग,मनीराम मार्ग,अद्वैतानंद मार्ग,तिलक रोड़,गंगा नगर, प्रगति विहार शैल विहार व तहसील के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी नागरिक बंदरों के आतंक से परेशान हैं। बंदर घरों में नुकसान पहुंचाने के अलावा बच्चों और महिलाओं पर हमला भी कर रहे हैं।


नगर क्षेत्र में पिछले कुछ समय से बंदरों के एक नहीं बल्कि अनेकों दल सक्रिय हैं। बंदर घर की छतों पर से कपड़े उठाकर फाड़ देते हैं। पानी की टंकियों और पीवीसी पाइप को क्षतिग्रस्त पहुंच रहे हैं। इतना ही नहीं मौका पाकर बंदर घर के भीतर घुस कर भी सामान चुरा लेते हैं। रोकने पर वह हमला कर घायल भी कर रहे हैं। बंदरों का आतंक यहीं तक सीमित नहीं है। बल्कि मोहल्ले में आने जाने वाले व्यक्तियों पर भी बंदर हमला कर रहे हैं। खासकर महिलाओं तथा बच्चों को यह बंदर निशाना बनाते हैं। भगाने की कोशिश करने पर यह पूरे दलबल के साथ हमला बोल देते हैं। घर के बाहर खड़े वाहनों को भी बंदर नुकसान पहुंचा रहे हैं। विभिन्न क्षेत्रों में नागरिकों ने वन विभाग से पिंजरा लगाकर उत्पाती बंदरों से निजात दिलाने की मांग की है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: