इतिहास के पन्नों में सदैव स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज रहेगा शिरोमणि महाराणा प्रताप का नाम-डॉ राजे सिंह नेगी

इतिहास के पन्नों में सदैव स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज रहेगा शिरोमणि महाराणा प्रताप का नाम-डॉ राजे सिंह नेगी

ऋषिकेश-गरीबों एवं असहायों की सेवा कर अंतरराष्ट्रीय गढवाल महासभा ने आज शिरोमणि महाराणा प्रताप की जयंती मनाई।


इस अवसर पर महासभा के अध्यक्ष डॉ राजे सिंह नेगी ने कहा कि यदि महाराणा प्रताप न होते तो हिंदुस्तान भी न होता। उन्होंने कभी भी मुगलों के सामने घुटने नहीं टेके । अकबर की सेना उनके सामने युद्ध करने से कतराती थी। उनकी वीरता ने ही उन्हें वीर शिरोमणि बनाया। रविवार को शिरोमणि महाराणा प्रताप की जंयती के अवसर पर महासभा की ओर से गरीबों एवं असहायों को भोजन वितरित किया गया।इस मौके पर महासभा के अध्यक्ष डा नेगी ने बताया कि महाराणा प्रताप ने कई बार अकबर के साथ लड़ाई लड़ी। उन्हें महल छोड़कर जंगलों में भी रहना पड़ा। अपने पूरे जीवन में उन्होंने संघर्ष किया, लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। उनका नाम इतिहास के पन्नों में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज रहेगा।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: