संकीर्तन सम्राट मुरलीधर मल्होत्रा के निधन पर राधा माधव संकीर्तन मंडल ने शोक सभा कर दी अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि

संकीर्तन सम्राट मुरलीधर मल्होत्रा के निधन पर राधा माधव संकीर्तन मंडल ने शोक सभा कर दी अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि

ऋषिकेश- देवभूमि ऋषिकेश के गंगा तट पर अनेकों बार अपनी सुरमई भजन प्रस्तुतियों की गंगा बहाकर धर्मप्रेमी जनता के दिलों पर राज करने वाले मुरलीधर मल्होत्रा का निधन हो गया। वह करीब 90 वर्ष के थे। यह दुखद जानकारी देते हुए श्री राधा माधव संकीर्तन मंडल की ऋषिकेश शाखा के अध्यक्ष राजेंद्र सेठी ने बताया कि



श्रीराधा-माधव संकीर्तन मंडल के संस्थापक एवं प्रसिद्ध संकीर्तन सम्राट मुरलीधर मल्होत्रा (बाबूजी) का निधन हो गया। उनकी अंतिम यात्रा सुबह कविनगर एम ब्लाक से प्रारंभ हुई और वृंदावन में यमुना के तट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। उन्होंने बताया मल्होत्रा जी अपनी संस्था के माध्यम से देवभूमि ऋषिकेश समेत उत्तर भारत के असंख्य शहरों में हरिनाम संकीर्तन के माध्यम से पिछले पांच दशख से आध्यात्म की अविरल धारा बहाते रहे।भजन कीर्तन से अनोखा नात रखने वाले भजन सम्राट ने कल शांम अतिंम सांस ली। उनके निधन पर राधा माधव संकीर्तन मंडल ने शोकसभा कर बाबूजी के परलोक गमन को अपूर्णनीय क्षति बताया और उन्हें अक्षुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: