व्यापारियों की पीड़ा को मेयर ने मजबूती से रखा सी एम के समक्ष!

व्यापारियों की पीड़ा को मेयर ने मजबूती से रखा सी एम के समक्ष

मुख्यमंत्री से मुलाकात में महापौर ने व्यापारिक गतिविधियां शुरू कराने की उठाई मांग

ऋषिकेश-नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने कोरोना कैसे हो के चलते आर्थिक कठिनाई झेल रहे तीर्थ नगरी व्यापारियों के दर्द को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा।

नगर निगम मेयर ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से मुलाकात की और उन्हें गढवाल के मुख्य द्वार ऋषिकेश के व्यापारियों की पीड़ा से अवगत कराकर उनसे व्यापारियों की कोरोनाकाल में हो रही आर्थिक हानि की जानकारी देते हुए बताया कि इस वैश्विक महामारी से देवभूमि ऋषिकेश में व्यापारियों की आर्थिकी नाजुक दौर में है। इस बाबत प्रांतीय व्यापार मंडल के पद्दाधिकारियों ने उन्हें अवगत कराया कि लंबी तालाबंदी से बदहाल व्यापारियों को समय अवधि की छूट देकर सरकार के संबल की नितांत आवश्यकता है।


उन्होंने बताया कोविड कर्फ्यू के दौरान आवश्यक सुविधाओं के अलावा लगभग सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे हैं जिसके चलते व्यापारियों के सामने अपने व्यापार को बचाने के लिए कई चुनौतियां सामने खड़ी है। उन्होंने मुख्यमंत्री से दो दिन पूर्व आई एस बी टी क्षेत्र मे अग्नि हादसे में भेंट चड़े खोखों की भी मुख्यमंत्री को जानकारी देते हुए उनसे पीड़ितों के लिए मुआवजे की मांग की।जिसपर मुख्यमंत्री ने उन्हें उचित कारवाई का भरोसा दिलाया।कोविड कफ्रयू पर मुख्यमंत्री ने बताया कि फिलहाल सरकार का फोकस वैश्विक महामारी पर अंकुश लगाकर लोगों की जिंदगी बचाने पर है।युद्व स्तर पर सरकार ने अपनी सम्पूर्ण ताकत इस पर झौंकी हुई है।इसके सार्थक परिणाम दिखने लगे हैं।जल्द ही कोरोना पर काबू पाते ही चरणबद्ध समय अवधि निर्धारित कर व्यापारिक गतिविधियां शुरु करा दी जायेंगी। मुख्यमंत्री से मिलने वालों में प्रांतीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिला संयुक्त महामंत्री पवन शर्मा एवं भाजपा जिला मंत्री पंकज शर्मा भी शामिल थे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: