भारत विश्व का एकमात्र ऐसा देश जहां प्रतिदिन होते हैं उत्सव – स्वामी चिदानन्द

भारत विश्व का एकमात्र ऐसा देश जहां प्रतिदिन होते हैं उत्सव – स्वामी चिदानन्द

ऋषिकेश-आज अक्षय तृतीया के पावन अवसर पर परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती महाराज ने कहा कि भारत एक ऐसा राष्ट्र है जहां प्रतिदिन उत्सव है और उन उत्सवोें के पीछे गूढ़ रहस्य, जीवन मूल्यों का संदेश और रिश्तों की जीवंतता छिपी है। उन्होंने अक्षय तृतीया की शुभ तिथि पर माँ गंगा में एकल सात्विक स्नान कर सार्वभौमिक स्वास्थ्य सुरक्षा हेतु विश्व शान्ति यज्ञ किया।



स्वामी चिदानंद ने भगवान परशुराम जयंती के पावन अवसर पर सभी को शुभकामनायें देते हुये कहा कि शास्त्र और शस्त्र का ज्ञान और विवेक से चयन कर जीवन में आने वाली चुनौतियों का शक्ति और भक्ति के साथ सामना करते हुये उन्होंने जो आदर्श और मूल्य स्थापित किये वह हर युग के लिये प्रासंगिक हैं। इस संकट की घड़ी में भगवान परशुराम सभी को स्वास्थ्य और शक्ति प्रदान करें।तत्पश्चात वे सभी दिव्य आत्मायें जिन्हें कोरोना ने हमसे छीन लिया है उनके लिये यज्ञ में विशेष आहूतियाँ दी एवं प्रभु से विशेष प्रार्थना की।चिदानन्द सरस्वती महाराज ने कहा कि वर्तमान समय बहुत कठिन है। इसका सामना करने के लिये संयम, साहस और मनोबल की जरूरत है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: