बुजुर्ग के लिए देवदूत बने चीता पुलिस के जवान, पीपीई किट पहन पहुंचाया एम्स!

बुजुर्ग के लिए देवदूत बने चीता पुलिस के जवान, पीपीई किट पहन पहुंचाया एम्स!

ऋषिकेश- कोरोना कहर से लोगों की जिंदगी बचाने के लिए तीर्थ नगरी में पुलिस देवदूत बनकर डटी हुई है।खुद जिंदगी दांव पर लगाकर ड्यूटी पर तैनात तमाम पुलिसकर्मी समाज के सामने लगातार एक आर्दश मिसाल पैश कर रहे हैं।


ऋषिकेश पुलिस एवं चीता पुलिस मे नियुक्त बहादुर पुलिसकर्मियों द्वारा अपनी जान की परवाह ना करते हुए, की गई त्वरित कार्यवाही व बुजुर्ग को समय से चिकित्सीय सुविधा मिलने पर उनके प्राणों की रक्षा हुई है। जिसपर स्थानीय लोगों एवं जनप्रतिनिधि द्वारा चीता पुलिस के इस कार्य की सराहना करते हुए ऋषिकेश पुलिस को धन्यवाद अदा किया है।प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर कॉलर द्वारा तीसरी बार सहायता मांगने पर ऋषिकेश के चीता पुलिस द्वारा व्यवस्था न होने पर स्वयं पी.पी.ई. किट पहनकर करोना पीड़ित को एम्स में भर्ती कराया गया। उपरोक्त कॉलर द्वारा सूचना दी गई थी कि अब ऑक्सीजन से भी राहत नहीं मिल रही है, तबीयत अधिक बिगड़ गई है एवं करोना पॉजिटिव होने के कारण आस-पड़ोस से कोई मदद नहीं कर पा रहा है।सूचना मिलते ही
चीता पुलिस के कांस्टेबल योगेंद्र कुमार व कांस्टेबल संदीप छाबड़ी ने पी पी ई किट पहनी और पीड़ित बुजुर्ग
गणेश दास पुत्र श्री धारीवाल. निवासी 22 गणेश विहार लेन नंबर 6, गंगा नगर ऋषिकेश उम्र 76 वर्ष को एम्स हास्पिटल पहुंचाया।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: