वैक्सीनेशन से युवाओं को मिलेगा सुरक्षा कवच -डॉ राजे सिंह नेगी

वैक्सीनेशन से युवाओं को मिलेगा सुरक्षा कवच -डॉ राजे सिंह नेगी

ऋषिकेश-कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को रोकने के लिए सरकार ने एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण कराने का निर्णय लिया है।



अंतरराष्ट्रीय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष एवं विभिन्न संगठनों से जुड़े समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी का कहना है कि अगर पहले से ही सरकार उनका भी टीकाकरण कराने का निर्णय ले लेती तो यह स्थिति न होती। उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए कल से शुरू होने जा रहे वैक्सीनेशन कार्यक्रम को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी सरकार को सुविधाएं देनी चाहिए इसके लिए उनके द्वारा राजकीय चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के माध्यम से डीजी हेल्थ को एक पत्र भी प्रेषित किया गया है।बता दे कि मोदी सरकार ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए 16 जनवरी से टीकाकरण की शुरूआत की थी। सबसे पहले फ्रंट लाइन वर्कर, स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण हुआ। इसके बाद 60 साल से अधिक एवं 45 से अधिक उम्र के गंभीर रोगियों के वैक्सीन लगाई जाने लगी। जबकि इधर कोरोना की रफ्तार ने काफी तेजी पकड़ रखी है। ऐसे में युवा भी कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण कराने की राह देखने लगे थे।महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डा नेगी के अनुसार कोरोना उम्र पूछकर संक्रमित नहीं करता। बीमारी कोई भी हो हर किसी के लिए घातक है। इसलिए टीकाकरण कराने में उम्र की बाध्यता नहीं होनी चाहिए । हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई की टीकाकरण युवाओं के लिए सुरक्षा कवच साबित होगा।उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से युवाओं को सुरक्षित रखने के लिए सरकार का निर्णय स्वागतयोग्य है। इससे युवाओं को सुरक्षा कवच मिलेगा और कोरोना को हराने में कामयाबी।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: