सीएचसी बेलेश्वर में महिला की सफल हिस्ट्रेक्टमी की गयी

सीएचसी बेलेश्वर में महिला की सफल हिस्ट्रेक्टमी की गयी

लंबे समय से रक्तस्राव की समस्या से ग्रसित थी

रक्तस्राव रोकने के लिए इंजेक्शन पर थी निर्भर

ऋषिकेश- हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट की ओर से संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) बेलेश्वर में एक महिला की बच्चेदानी का सफल ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन के बाद मरीज पूरी तरह से स्वस्थ है और उसे छुट्टी दे दी गई है। चिकित्सकों के अनुसार सीएचसी स्तर पर किया गया बच्चेदानी का यह पहला सफल आपरेशन है।




​banner for public:Mayor

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर नीरज कर्दम ने बताया कि ग्राम बजिंगा थोपड़धार टिहरी गढ़वाल निवासी 51 वर्षीय पार्वती देवी को लंबे समय से महीने में दो बार मासिक रक्तस्राव की समस्या बनी हुयी थी। इस दौरान उन्हें अत्यधिक खून भी जाता था। महिला का ऋषिकेश के सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में इलाज भी चल रहा था। जहां उसका अल्ट्रासाउंड करने के बाद बताया गया कि उनकी बच्चेदानी में सूजन है। रक्तस्राव रोकने के लिए महिला इंजेक्शन ले रही थी। इसी क्रम में महिला सीएचसी बेलेश्वर रक्तस्राव रोकने का इंजेक्शन लगवाने आयी तो उन्होंने अपनी समस्या को यहां तैनात डाॅ. मर्यादा नितीश दीक्षित को बताया। गायनेकोलाॅजिस्ट डाॅ. मर्यादा नीतिश दीक्षित ने महिला का चिकित्सकीय परीक्षण किया व सही ईलाज के लिए बच्चेदानी का टुकड़ा जांच के लिये भेजने की सलाह दी। इस दौरान मरीज को दवाई पर रखा गया, जिससे मरीज की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ। इसके पश्चात मरीज को बच्चेदानी (हिस्ट्रेक्टमी) निकालने की सलाह दी गयी। मरीज की सहमति के बाद कुछ आवश्यक जांचे करायी गयी। इसके बाद गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. मर्यादा नितिश दीक्षित के नेतृत्व में सर्जन डॉ. प्रवीण कुमार, निश्चेतक डॉ. मृणाल एवं डॉ. ज्योति सहित सहायक स्टाफ विशन, अंशुल, मोनिका, हेमा, कुसुम व अरविंद की टीम ने महिला की सफल सर्जरी की। आपरेशन लगभग डेढ़ घंटे तक चले आपरेशन के बाद मरीज अब पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर घर जा चुकी है।वहीं चिकित्सा अधीक्षक डॉ नितिश दीक्षित ने बताया कि इस समय चिकित्सालय में सिजेरियन, हिस्ट्रेक्टमी, महिला नसबंदी, पुरुष नसबंदी, हर्निया, हाइड्रोसील, मासिक मोतियाबिंद कैम्प की सुविधाएं सुचारू रूप से चल रहीं है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: