होली के रंगों से सराबोर हुई तीर्थ नगरी!

होली के रंगों से सराबोर हुई तीर्थ नगरी!

ऋषिकेश – कोरोना पर भारी पड़ी रंगों के त्यौहार होली पर्व की मस्ती।देश भर के साथ देवभूमि ऋषिकेश में भी
आपसी सोहार्द ,प्यार, प्रेम और रंगों का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। नगर तथा ग्रामीण क्षेत्र में रंगों की खूब सतरंगी बयार बही। ढोल-नगाड़े और संगीत की मस्ती में लोग जमकर थिरके। विविध संस्कृतियों के केंद्र तीर्थनगरी में विदेशी मेहमान भी होली के रंगों में सराबोर दिखे। होली पर सोमवार की सुबह से ही लोगों पर होली का रंग छाने लगा था। गली मोहल्लों में हुल्यारों की टोलियां रंग लेकर घूमने लगी थी। होली पर घरों में भी कई प्रकार के पकवान बने।





​banner for public:Mayor

युवाओं और बच्चों में तो होली का उत्साह देखते ही बनता था। जबकि उम्रदराज लोग और महिलाओं ने भी उत्साह व उमंग के साथ अबीर-गुलाल उड़ाए। कई लोग टोलियां बनाकर नगर तथा आसपास क्षेत्रों में हाथों में रंग और गुलाल लेकर निकले। जहां भी जो भी मिला उसे ही रंगों में सराबोर कर दिया। घर की छतों से बच्चों ने गुब्बारे और पिचकारियों से पानी फेंक कर होली की मस्ती की। शहर क्षेत्र ही नहीं बल्कि ग्रामीण इलाकों में भी महिलाएं व युवा टोली बनाकर में घरों से बाहर निकले।
एक दूसरे को होली का टीका और रंग में रंगने के बाद गले मिलने का सिलसिला भी खूब चला। इस बार होली पर लोगों ने पानी और रासायनिक रंगों का अधिक इस्तेमाल नहीं किया। कई लोगों ने होली का त्यौहार घरों से दूर पिकनिक के रूप में मनाया। होली के लिए पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की थी। विभिन्न नाकों पर तैनात पुलिस ने होली के नाम पर हुड़दंग करने वालों की जमकर खबर भी ली।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: