हिमालयन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट में निंद्रा रोग स्वास्थ्य परामर्श शिविर आयोजित

हिमालयन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट में निंद्रा रोग स्वास्थ्य परामर्श शिविर आयोजित
स्वास्थ्य शिविर में आए 10 फीसदी लोग निंद्रा रोग से पीड़ित
हॉस्पिटल की स्लीप क्लिनिक में पॉलीसोमोनॉग्राफी के जरिये की जाएगी स्लीप स्टडी

ऋषिकेश– विश्व निंद्रा रोग दिवस के उपलक्ष्य में हिमालयन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट में एक दिवसीय विशेष स्वास्थ्य परामर्श आयोजित किया गया। विभिन्न तरह के निंद्रा रोग से पीड़ित रोगियों ने स्वास्थ्य परामर्श लिया। हॉस्पिटल के छाती एवं श्वास रोग विभाग के चिकित्सकों की टीम ने लोगों को इसके लक्षण व उपचार की जानकारी दी।





​banner for public:Mayor

हिमालयन हॉस्पिटल में विभागाध्यक्ष डॉ.राखी खंडूरी ने बताया कि कि आम तौर पर निंद्रा रोग से ग्रसित रोगी नींद की दवाई के आदी हो जाते हैं। जबकि रोजाना दवाई लेने के बाद भी वह ठीक महसूस नहीं करते। उल्टा वह उचित इलाज के अभाव में कई रोगों से घिर जाते हैं।
हिमालयन हॉस्पिटल की डॉ.राखी खंडूरी ने बताया कि स्वास्थ्य परामर्श शिविर में करीब 10 फीसदी लोगों में निंद्रा रोग के लक्षण पाए गए। ह़ॉस्पिटल में मौजूद स्लीप क्लीनिक में उनकी स्लीप स्टडी की जाएगी।इस दौरान
,डॉ.वरुणा जेठानी, डॉ.सुचिता पंत, डॉ.दीपेन शर्मा, डॉ.निशांत सक्सेना, डॉ.संकेत जोशी, डॉ.कुमार निशांत, डॉ.मानवेंद्र, डॉ.कनुप्रिया, डॉ.सुशांत खंडूरी, डॉ.मनोज कुमार आदि मोजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: