….. रुख हवाओं का जिधर का है ,उधर के हम हैं!

….. रुख हवाओं का जिधर का है ,उधर के हम हैं!

ऋषिकेश-सूबाई सियासत में काबिज भाजपा का निजाम बदलते ही भाजपाईयों ने गिरगिट की तरह रंग बदलने शुरू कर दिए हैं।कल तक जो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के बेहद करीबी होने का दावा करते थे सियासत के संग्राम में उनकी कुर्सी छिनते ही पाला बदलते नजर आने लगे हैं।





​banner for public:Mayor

उत्तराखंड की राजधानी द्रोणनगरी देहरादून में भाजपा हाईकमान के दिशा निर्देशानुसार मुख्यमंत्री के लिए पौडी लोकसभा सांसद तीरथ सिंह रावत का नाम फाईनल होते ही उनके करीबी होने का रोब गालिब करने के लिए धड़ाधड़ सोशल मीडिया में फोटोज वायरल होनी शुरू हो गई।इसे नेताओं की रणनीति कहें या उनकी राजनीतिक मजबूरी, लेकिन नेताओं का ये चलन अब आम हो गया है। कुल मिलाकर ये कह सकते हैं कि रंग बदलने में नेताओं को महारथ हासिल होती है। चुनावी मौसम के आगाज में इन नेताओं ने जिस स्पीड से रंग बदलना शुरू किया है उससे तो ये नेता रंग बदलने में माहिर गिरगिट के लिए भी कड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: