व्यापारी नेताओं में स्वर्गीय जयदत्त शर्मा का नही है कोई विकल्प!

व्यापारी नेताओं में स्वर्गीय जयदत्त शर्मा का नही है कोई विकल्प!

ऋषिकेश-कुछ शख्स ऐसे होते हैं जिनकी भरपाई करना आसान नहीं होता। शहर के दिवंगत व्यापारी नेता स्वर्गीय जयदत्त शर्मा का शुमार भी उन व्यापारी नेताओं में होता था जिन्होंने व्यापारी हितों की लड़ाई सदैव फ्रंट फुट पर आकर लड़ी।





​banner for public:Mayor

उनके नगर उधोग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष पद के कार्यकाल के दौरान बड़े से बड़ा अधिकारी भी कभी किसी व्यापारी का शोषण नही कर पाया। मामला किसी व्यापारी पर पड़ी इनकम टैक्स की रेड का हो या फिर अतिक्रमण की कारवाई का वह सदैव आगे बढ़ कर मामले को सुलझाते हुए नजर आते थे। यहां तक की एक व्यापारी नेता पर अतिक्रमण के नाम पर की गई जबरन कारवाई के विरुद्ध तो वह कोतवाली में ही पुलिस अधिकारियों से भिड़ गये थे।ऐसे अनेकों मामले शहर के व्यापारियों की जेहन की वादियों में आज भी कायम हैं।लेकिन अचानक 1 वर्ष पूर्व 9 मार्च 2020 को काल के क्रूर हाथों में दिल्ली के अपोलो अस्पताल में उपचार के दौरान हुई उनकी अकास्मिक मौत से कुछ इस कदर शून्य की स्थिति उत्पन्न हुई कि वो अभी तक खत्म होने का नाम नही ले रही।हालांकि इस एक वर्ष में उनकी जगह लेने के लिए विभिन्न मुद्दों पर व्यापारी नेताओं की फौज सामने भी आई लेकिन विडम्बना देखिए शहर के व्यापारियों को उनके जेसे मजबूत इरादों वाले व्यापारी नेता की झलक किसी में नही दिखी।इन सबके बीच कयास लगाये जा रहे हैं कि अप्रैल माह के प्रथम सप्ताह तक नगर उधोग व्यापार महासंघ के चुनाव सम्पन्न हो जायेंगे जिसमें महामंत्री के साथ एक नया अध्यक्ष भी शहर के व्यापारियों को मिल जायेगा।लेकिन वह किस हद तक व्यापारियों की उम्मीदों पर खरा उतर पाएगा यह फिलहाल अभी भविष्य के गर्भ में है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: