बाढ़ सुरक्षा,पर्यावरण एवं भू-संरक्षण कार्यों के मद्देनजर भावी कार्ययोजना को लेकर वन क्षेत्राधिकारी ने खादर क्षेत्र का भौतिक निरीक्षण किया

बाढ़ सुरक्षा,पर्यावरण एवं भू-संरक्षण कार्यों के मद्देनजर भावी कार्ययोजना को लेकर वन क्षेत्राधिकारी ने खादर क्षेत्र का भौतिक निरीक्षण किया

ऋषिकेश-वीर पुर खुर्द से लेकर ग्रामसभा खड़क माफ के समीपवर्ती गंगा के बहेत क्षेत्र ( कैचमेंट एरिया) में बाढ़ सुरक्षा,पर्यावरण एवं भू-संरक्षण कार्यों के मद्देनजर भावी कार्ययोजना को ध्यान में रखते हुए वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महेंद्र सिंह रावत ने जिला गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य पर्यावरण विद विनोद जुगलान एवं विभागीय टीम के साथ श्यामपुर विस्थापित क्षेत्र से लेकर खड़क माफ के खादर क्षेत्र का भौतिक निरीक्षण किया।





​banner for public:Mayor

गौरतलब है कि जिला गंगा सुरक्षा समिति के नामित सदस्य पर्यावरण विद विनोद जुगलान ने समिति की बीती नौ फरवरी को हुई बैठक में समिति के अध्यक्ष जिलाधिकारी देहरादून डॉ आशीष श्रीवास्तव के समक्ष गंगा जी के बहेत क्षेत्र में बाढ़ सुरक्षा एवं पर्यावरण संरक्षण को लेकर सुरक्षा प्रबन्ध कराने का आग्रह किया था।जिसका संज्ञान लेते हुए प्रभागीय वनाधिकारी राजीव धीमान के निर्देश पर वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश ने उक्त क्षेत्र का निरीक्षण कर गंगा बहेत क्षेत्र का जायजा लिया।मौके पर उपस्थित पर्यावरणविद विनोद जुगलान ने निरीक्षण दल को बताया कि पहाड़ों में बार बार रही आपदाओं के परिणाम स्वरूप एवं बरसाती बाढ़ के कारण गंगा के बहेत क्षेत्र में रिवर बेड मैटेरियल का स्तर हरसाल लगातार बढ़ रहा है।जिसके कारण गंगा के तटीय क्षेत्र से लगते गाँवों में न केवल बाढ़ के खतरों की संभावनाएं बढ़ गईं हैं बल्कि गंगा के तटीय क्षेत्र में खाली पड़ी वन भूमि का प्रयोग भी पूर्ण रूप से नहीं किया जा सकता है।यदि उक्त क्षेत्र में बाढ़ सुरक्षा प्रबन्ध किये जाते हैं तो न केवल ग्रामीण क्षेत्र सहित वन सुरक्षा होगी बल्कि बर्षात में बाढ़ के जलस्तर बढ़ने से राजकीय पॉलिटेक्निक संस्थान खदरी श्यामपुर को होने वाले सम्भावित खतरों से भी निजात मिल सकेगी।वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश ने अधीनस्थ अधिकारियों एवं वनकर्मियों के साथ तीन किलोमीटर की पैदल दूरी तय कर वन्यजीवों से सुरक्षा को लगाई जा रही सौर ऊर्जा बाड़ का भी निरीक्षण कर कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए।मौके पर वनदरोगा स्वयम्बर दत्त कण्डवाल,वन बीट अधिकारी राजेश बहुगुणा,वन आरक्षी सुभाष बहुगुणा,वनकर्मी सुरेश चंद आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: