वन क्षेत्र में चलाया लैंटना उन्मूलन अभियान

वन क्षेत्र में चलाया लैंटना उन्मूलन अभियान

ऋषिकेश-अठूर भागीरथी स्वयं सहायता समूह के अध्यक्ष और स्मृतिवन ऋषिकेश के संरक्षक पर्यावरण विद विनोद जुगलान के नेतृत्व में समूह के सदस्यों ने दो दिवसीय लैंटना उन्मूलन अभियान चलाया।ऋषिकेश वन क्षेत्र अंतर्गत लालपानी वन बीट स्थित स्मृतिवन में समूह के आधा दर्जन से अधिक सदस्यों ने सुबह वन में पहुँचकर न केवल लैंटना की झाड़ियों का कटान किया बल्कि स्मृतिवन स्थित पौधों को जल देकर सिंचित किया।मौके पर पहुँचे वन क्षेत्राधिकारी एम एस रावत ने अभियान में सम्मिलित समूह के सदस्यों द्वारा किये गए कार्यों का निरीक्षण समूह के सदस्यों की सराहना करते हुए आभार जताया।उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण में आम नागरिकों की भागीदारी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।लैंटना की झाड़ियों से वनीकरण में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।





​banner for public:Mayor

पर्यावरण विद विनोद जुगलान ने कहा कि लैंटना पशुओं के लिए हानिकारक और विषैला होता है।इसके खाने से कम उम्र के मवेशियों में डर्मेटाइटिस और चर्म रोग संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है।उन्होंने लैंटना उन्मूलन के लिए जनजागरूकता पर जोर दिया।दो दिन में लगभग एक एकड़ वन भूमि को लैंटना मुक्त किया गया।मौके पर वन क्षेत्राधिकारी एम एस रावत वन दरोगा मनसा राम गौड़,वन बीट अधिकारी अजय पँवार, वनबीट सहायक देवेंद्र कुमार,वनआरक्षी सुभाष बहुगुणा,वनकर्मी शिवा कुमार चीनू,समहू के सचिव रमेश चंद्र बेलवाल,आचार्य शिव स्वरूप नौटियाल,कुशाल सिंह,चेतन भट्ट,मोहन सिंह,सीता देवी,गुड्डी देवी,विमला देवी,सरोजनी देवी आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: