भविष्य का सितारा बनकर उभरा स्पर्श भंडारी, दो सैंचुरी ठोक बल्ले से मचाई धूम!

भविष्य का सितारा बनकर उभरा स्पर्श भंडारी, दो सैंचुरी ठोक बल्ले से मचाई धूम!

ऋषिकेश-नाम स्पर्श भंडारी।उम्र महज 13 वर्ष ।उपलब्धि दो धमाकेदार शतक और बेहतरीन बल्लेबाजी के जरिए संभावना जगाने वाला उभरता सितारा।जी हां यही संक्षिप्त परिचय है तपोवन निवासी उत्तराखंड के लोकप्रिय गढ गायक लेखराज भंडारी के पुत्र स्पर्श भंडारी का जिसके बल्ले की इन दिनों जबरदस्त धूम मची हुई है।देहरादून के सोशल बलूनी स्कूल मे कक्षा आठ के छात्र स्पर्श माही एकेडमी से क्रिकेट की ट्रेनिंग ले रहे हैं।





​banner for public:Mayor

अपने तीन माह की ट्रेनिंग में ही ताबडतोड बल्लेबाजी, दिलकश स्ट्रोक्स और गजब के डिंफेस से स्पर्श ने सबको प्रभावित किया है।कोटद्वार में आयोजित अंडर 14 क्रिकेट टूर्नामेंट में लाजवाब बल्लेबाजी और कई मैच जिताऊ इंनिग खेलने वाले स्पर्श को उनकी चमकदार
बल्लेबाजी के लिए बेस्ट बल्लेबाज भी चुना गया।अपने कोच शिवेन्द्र रावत की कोचिंग में बेहद तेजी के साथ निखर कर सामने आये स्पर्श को अभी से ही भविष्य का उभरता हुआ सितारा माना जा रहा है हांलाकि वह अपने खेल को कितना और निखार कर आगे ले जा पायेंगे यह फिलहाल तो अभी भविष्य के गर्भ में है।स्पर्श ने एक मुलाकात के दौरान बताया उसका सिर्फ एक ही लक्ष्य है एक दिन टीम इंडिया में खेलकर अपने पिता और कोच के सपनों को साकार करना जिसके लिए वह पूरे सर्मपण के साथ पूरी कोशिश करेंगे।स्पर्श के पिता लेखराज भी मानते हैं कि मैदान में अपने प्रदर्शन से स्पर्श लोगों का दिल जीत रहे हैं। उसकी उम्र भले ही कम है, लेकिन वह लगातार दमदार प्रदर्शन करके प्रभावित कर रहे हैं। पिछले दो महीने के अंदर दो शतक जमा चुके स्पर्श ने लगातार उम्‍दा पारी खेलकर अपनी प्रतिभा को दर्शाया है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: