कन्या पूजन के साथ हुआ शारदीय नवरात्र उत्सव का समापन

कन्या पूजन के साथ हुआ शारदीय नवरात्र उत्सव का समापन

ऋषिकेश- शक्तिकी आराधना के पर्व नवरात्र के अंतिम दिन शनिवार को अष्टमी और नवमी एक साथ मनाई गई। नवरात्र में चल रहे धार्मिक कार्यक्रमों का समापन कर पूर्णाहुति की गई। जगह-जगह कन्या पूजन और भंडारों का आयोजन किया गया। वहीं नवरात्र में स्थापित की गई दुर्गा प्रतिमाओं को विदाई दी गई। कई परिवारों में कुलदेवी की पूजा की गई।

तीर्थनगरी ऋषिकेश में शारदीय नवरात्र अष्टमी व नवमीं का पर्व शनिवार को श्रद्धा व उल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर लोगों ने कन्या पूजन कर सुख-समृद्धि की कामना की। देवी मंदिरों में भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रही। कन्या पूजन के साथ नवरात्र का परायण हो गया। अष्टमी व नवमी तिथि एक ही दिन शनिवार को होने के कारण देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। मंदिरों में माता के श्रीविग्रह का विशेष श्रृंगार किया गया। प्रातः विशेष आरती की गई। दिन भर देवी मंदिरों में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। तीर्थनगरी के शीशम झाड़ी स्थित कात्यायनी मंदिर में उत्सव सरीखे माहौल के बीच हवन का आयोजन किया गया। इस दौरान मंदिर के संस्थापक गुरुविंदर सलूजा के सानिध्य में विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान भी संपन्न हुए।
श्री दुर्गा शक्ति मँदिर मनीराम मार्ग का शारदीय नवरात्र महोत्सव आज भगवती जागरण के साथ विधिवत संपन्न हो गया। इसके बाद पवित्र हरियाली को देश व समाज के कल्याण की कामनाओ के साथ त्रिवेणी घाट में विसर्जित किया गया। भगवती जागरण की शुरुआत भजन गायक पं ज्योति शर्मा ने गणेश आराधना के साथ की।इसके बाद उन्होंने भजनो की शानदार स्वरलहरियों से माता रानी का गुणगान किया।कार्यक्रम में मँदिर समिति अध्यक्ष संदीप मल्होत्रा,पार्षद प्रदीप कोहली, रमन नारंग, अमृतलाल नागपाल, मनीश छाबड़ा ,चंद्र भाटिया, जितेंद्र आनंद , त्रिलोकी नाथ, मनोहर लाल भोला, मुकेश शर्मा, राजेश रावल धीरज कथूरिया आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most view news

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: