मौजूदा दौर में मानसिक स्वास्थ्य पर अत्याधिक निवेश की आवश्यकता- डॉ राजे सिंह नेगी

मौजूदा दौर में मानसिक स्वास्थ्य पर अत्याधिक निवेश की आवश्यकता- डॉ राजे सिंह नेगी

ऋषिकेश- कोरोना महामारी के चलते लोगों को मानसिक स्वास्थ्य से सबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, लोगों को अनेक कारणों से तनाव की समस्या उत्पन्ना हो रही है। स्वस्थ शरीर के लिए मानसिक स्वास्थ्य भी सुदृढ़ रहना आवश्यक है, मानसिक स्वास्थ्य को नजरंदाज ना करें।

यह कहना है विभिन्न संगठनों से जुड़े समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी का । विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर उन्होंने बताया कि आज सारी दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना की चपेट में है। इस महामारी की वजह से उजड़ते कारोबार और सिमटती नौकरियों ने दुनिया भर में मानसिक रोगों की संख्या में भी अभूतपूर्व इजाफा किया है जो कि अपने आप में बेहद चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि उचित परामर्श मिले तो मानसिक रोगी पूर्ण रूप से स्वस्थ हो सकते हैं। बेहतर मानसिक स्वास्थ्य से परिपूर्ण समाज बनाने के लिए मानसिक स्वास्थ्य में अत्यधिक निवेश करने की आवश्यकता है। बकौल डा नेगी के अनुसार मानसिक रोग के प्रति समाज के हर वर्ग के जागरूक होना जरूरी है। मानसिक रोग भी अन्य बीमारियों की तरह है तथा इसका इलाज संभव है। तनाव, एकल परिवार आदि इसके दूसरे कारण है।उन्होंने बताया कि अवसाद के कारण आज समाज में लोग आत्महत्या कर रहे हैं जो बहुत ही दुखद है। इसलिए मानसिक रोगों से संबंधित कोई भी समस्या का उपचार समय पर कराना बहुत जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: