ऑनलाइन चित्रांकन प्रतियोगिता के परिणाम घोषित

ऑनलाइन चित्रांकन प्रतियोगिता के परिणाम घोषित

ऋषिकेश- वन्यजीवों की सुरक्षा एवं संरक्षण हेतु जनजागरूकता के उद्देश्य से मनाए जाने वाला वन्यजीव सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत शिक्षा,संस्कृति उत्थान न्यास एवं वन विभाग ऋषिकेश रेन्ज की ओर से संयुक्त रूप से आयोजित ऑनलाइन चित्रांकन प्रतियोगिता के परिणाम के घोषित किए गये।इसके
साथ ही वन्य प्राणी सप्ताह का विधिवत समापन हो गया।
वन क्षेत्राधिकारी कार्यालय ऋषिकेश में आयोजित कार्यक्रम में कार्यक्रम के संयोजक एवं शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के प्रान्त पर्यावरण प्रमुख पर्यावरणविद विनोद जुगलान ने चित्रांकन के विजेता प्रतिभागियों के नामों की घोषणा करते हुए बताया कि निर्णायक मंडल में योग एवं तीर्थनगरी ऋषिकेश मूल की वर्तमान में नासिक महाराष्ट्र निवासी महाराष्ट्र राज्य में बेस्ट नेचर आर्टिस्ट अवार्ड एवं भारत सरकार के कला एवं संस्कृति मन्त्रालय द्वारा नेशनल सीनियर फेलोशिप चित्रकला अवार्ड सहित कई बड़े पुरस्कारों से सम्मानित देश की ख्याति प्राप्त प्रकृति चित्रकार मंजू चौहान ने ऑनलाइन मुख्य निर्णायक की भूमिका निभाई।जोकि तीर्थनगरी के लिए गौरव की बात है।उन्होंने नन्हे चित्रकारों की चित्रकारिता देखते हुए फोन पर दिए गए संदेश में कहा कि ऋषिकेश प्रतिभाओं की नगरी है।ऐसी प्रतिभाओं के विकास के लिए समय-समय पर ऐसे छोटे छोटे प्रतियोगियात्मक प्रयास न केवल सार्थक होंगे बल्कि समाज में वन्यजीवों के प्रति सुरक्षा का भाव भी विकसित होगा।गैरतलब है कि मंजू चौहान भारत सरकार कला मन्त्रालय के अधीन प्रकृति चित्रण का कार्य करते हुए प्रकृति एवं संस्कृति संरक्षण का कार्य कर रहीं हैं।निर्णायक मंडल में स्थानीय चित्रकारों सहयोगी की भूमिका निभाई।वन क्षेत्राधिकारी एम एस रावत ने बताया कि वन्य प्राणी सप्ताह में चित्रांकन प्रतियोगिता कनिष्ठ वर्ग में कक्षा पाँचवी से आठवीं और वरिष्ठ वर्ग में नौवीं से बारहवीं तक दो भागों में विभाजित किया गया था।कनिष्ठ वर्ग में दून इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल कक्षा 8वीं की छात्रा दिव्यांशी भट्ट प्रथम ,एनडीएस श्यामपुर कक्षा सातवीं के छात्र अक्षत राजभर ने द्वितीय,ब्रेन डिस्कवरी ग्लोबल स्कूल छिद्दरवाला कक्षा आठवीं की छात्रा तनीषा बैनर्जी ने तृतीय एवं हैप्पी होम खदरी श्यामपुर कक्षा 5वीं के छात्र प्रियांशु चौहान सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया।
द्वितीय वरिष्ठ वर्ग में निर्मल ज्ञान दान आदमी खैरी कलां 11वीं के चित्रकार अखिल श्रेष्ठ ने प्रथम जबकि निर्मल दीप माला स्कूल श्यामपुर कक्षा 10 वीं के छात्र अमृतम जुगलान ने द्वितीय,डिप्स श्यामपुर कक्षा 12 वीं की छात्रा गुँजन कण्डवाल ने तृतीय स्थान एवं डीएसबी स्कूल गुमानी वाला कक्षा दसवीं के छात्र हिमांशु चौहान ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया।चित्रांकन प्रतियोगिता के सभी विजेता प्रतिभागियों को आयोजन समिति की ओर से महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा पर्यावरण में सहयोगी जूट एवं भीमल से निर्मित स्कूल बैग,फाइल फोल्डर,पेंसिल बटुआ आदि स्मृति चिन्ह के साथ प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।जबकि कार्यक्रम के सफल संयोजन हेतु पर्यावरणविद विनोद जुगलान को वनक्षेत्राधिकारी ऋषिकेश ने कंडाली (बिच्छू घास)के रेशों से निर्मित अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया।कार्यक्रम के पश्चात प्रतिभागियों के उपस्थित अभिभावकों को वन क्षेत्राधिकारी एम एस रावत एवं विनोद जुगलान ने औषधीय गुणकारी गिलोय के पौधे भेंटकर प्रकृति एवं आयुष संरक्षण का संदेश दिया।मौके पर तीर्थ नगरी के प्रख्यात चित्रकार राजेश चन्द्र,चित्रकला शिक्षिका ईशा चौहान, सागर राजभर,वीके राजभर,केपी कंडवाल,रश्मि अग्रवाल,धीरज श्रेष्ठ,वन दरोगा राम पाल पाठक,वनकर्मी सुभाष बहुगुणा,अनुराग सिंह उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: