वन्यजीवों से फसल सुरक्षा को वन विभाग ने बढ़ाई रात्रि गश्त

वन्यजीवों से फसल सुरक्षा को वन विभाग ने बढ़ाई रात्रि गश्त

ऋषिकेश-खदरी खड़क माफ के खादर में जँगली हाथी की आमद को रोकने के लिए एक ओर ग्रामीण खेतों में पहरा दे रहे हैं,तो दूसरी ओर वन विभाग द्वारा किसानों की फसल सुरक्षा को लगातार प्रयास जारी है।जिस खाई को पार करके जँगली हाथी खेतों में प्रवेश कर रहा था।उसकी वन विभाग द्वारा जेसीबी लगाकर सफाई करा दी गई है।जबकि जिला गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य पर्यावरणविद विनोद जुगलान विप्र के आग्रह पर वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश एम एस रावत द्वारा क्षेत्र में रात्रिगश्त बढ़ा दी गयी है।

बीती रात वन कर्मियों के गश्तदल ने पटाखे फोड़कर जँगली हाथी को जंगल की ओर खदेड़ा।इस बीच रात्रि गश्तदल को पर्यावरणविद विनोद जुगलान के पैरों के समीप हलचल दिखाई दी,उजाला करने पर पता चला कि वहाँ से अजगर गुजर रहा है जो कि बाद में झाड़ियों की ओर चला गया।रात्रि गश्तदल में वन दरोगा स्वयम्बर दत्त कण्डवाल,वन आरक्षी अनुराग सिंह,भूत पूर्व सैनिक संजय रावत,भूतपूर्व सैनिक राम चन्द्र सिंह,विनोद जुगलान,शेखर सिंह,सुख पाल सिंह एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण किसान सम्मिलित रहे।शुक्रवार की दोपहर वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश एम एस रावत ने किसानों के खेतों की सुरक्षा को लेकर खोदी गई हाथी खाई का निरीक्षण कर सुरक्षा प्रबन्धों का जायजा लिया।समाजसेवी विनोद जुगलान ने वन क्षेत्राधिकारी से आग्रह किया क्षतिग्रस्त सौर ऊर्जा बाड़ ठीक कर वाया जाय ताकि जिन स्थानों पर हाथी खाई खोदना सम्भव नहीं है उन स्थानों को भी सौर ऊर्जा बाड़ से सुरक्षित किया जा सके।उन्होंने सौर ऊर्जा बाड़ शीघ्र ही ठीक कराने का भरोषा दिलाया है।शुक्रवार दोपहर मौके पर वन बीट अधिकारी राजेश बहुगुणा, वनआरक्षी सुभाष बहुगुणा,वन कर्मी मनोज कुमार भोला,सुरेश कुमार,सोनू कुमार,चन्दन सिंह,शूर वीर सिंह,पन्ना लाल,धर्म पाल,जग भूषण आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: