सप्ताहिक अवकाश पर दुकानें खोल बाहुबली बने दुकानदार, कोरोना को दे रहे खुली चुनौती

सप्ताहिक अवकाश पर दुकानें खोल बाहुबली बने दुकानदार, कोरोना को दे रहे खुली चुनौती

ऋषिकेश-तीर्थ नगरी में कोरोना कहर के बावजूद कुछ दुकानदार अधिक मुनाफा कमाने के चक्कर में अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। बृहस्पतिवार के साप्ताहिक अवकाश पर आज भी आज शहर के विभिन्न क्षेत्रों में तमाम नियम नियम कायदे कानूनों को ताक पर रखकर कुछ दुकानें दिनभर खुली रही। विडम्बना देखिए एक और जहां शहर के कुछ व्यापारी नेता तमाम व्हाट्सएप ग्रुपों में प्रदेश की त्रिवेन्द्र रावत सरकार से कोराना संक्रमण की लगातार होती जा रही विस्फोटक स्थिति को देखते हुए 15 दिनों तक के संपूर्ण लॉक लॉक डाउन की मांग कर रहें है वहीं दूसरी ओर शहर में सप्ताहिक अवकाश के दिन भी दुकानदार अपनी दुकानों को बंद करने को तैयार नहीं हैं।लाँकडाउन 1,2,3 के बाद अब लाँकडाउन4 में भी
एक दिन की बंदी में दुकानों को खोलकर कुछ दुकानदार नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं।

वृहस्पतिवार को रेलवे रोड, त्रिवेणी घाट बाजार, झंडा चौक ,देहरादून रोड, लक्ष्मण झूला मार्ग ,हरिद्वार रोड सहित विभिन्न बाजारों में कुछ दुकानें दिन भर खुली रही। गौरतलब है कि पिछले एक पखवाड़े से अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धर्म के प्रतिनिधि ऋषिकेश कोरोनावायरस ने अपना कहर बरपा रखा है कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में जहां अभूतपूर्व इजाफा होने के बाद एम्स हॉस्पिटल पूरी तरह से फूल बताया जा रहा है वही अनेकों लोगों को इस दौरान वैश्विक महामारी की चपेट में आने के चलते अपनी जान भी गंवानी पड़ी है।बावजूद इसके लोगों में संक्रमण का का कोई खौफ नही देखने को मिल रहा। इस मामले में दुकानदार भी किसी से पीछे नहीं हैं यही कारण है कि एक दिन की साप्ताहिक बंदी भी कुछ दुकानदार सहन नहीं कर पा रहे हैं। अधिक मुनाफे के लालच में इनके द्वारा दिनभर सप्ताहिक अवकाश के दिन भी दुकानें खोली जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most view news

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: