राष्ट्र गीत प्रतियोगिता में दिखा देशभक्ति का जज्बा

राष्ट्र गीत प्रतियोगिता में दिखा देशभक्ति का जज्बा

ऋषिकेश-“एक भारत श्रेष्ठ भारत ” क्लब के तत्वावधान में पण्डित ललित मोहन शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविधालय में स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर, राष्ट्रभक्ति गीत प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।
प्रतियोगिता के सचिव डॉ दयाधर दीक्षित ने बताया कि प्रतियोगिता का उद्द्येश्य संगीत के क्षेत्र में उत्तराखंड के युवाओं की प्रतिभा को एक मंच प्रदान करने के साथ उनमें देश भक्ति की भावना और राष्ट्र निर्माण मैं अपनी जिम्मेदारी का एहसास कराना था । प्रतियोगिता में 80 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया , जिसमे राजकीय महाविद्यालय ऋषिकेश के अतिरिक्त ,राजकीय महाविद्यालय उत्तरकाशी,राजकीय महाविद्यालय कोटद्वार,राजकीय महाविद्यालय रायपुर,राजकीय महाविद्यालय गरुण , डी एस बी नौनीताल , राजकीय महाविद्यालय हल्द्वानी , गुरुकुल कांगड़ी विश्विद्यालय, एसजीआरआर देहरादून, राजकीय महाविद्यालय गरुण के प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया ।इस दौरान कर्नाटक पेयर इंस्टीट्यूट राजकीय महाविद्यालय चन्नागिरी तथा हिरियूर के भी प्राचार्य और प्रोफेसर जुड़े भी कार्यक्रम से जुड़े ।

कार्यक्रम का शुभारंभ आयोजन सचिव डॉ दयाधर दीक्षित ने सभी सम्मानित अतिथियों के स्वागत से किया तथा एक भारत श्रेष्ठ भारत क्लब के संयोजक डॉ मृत्युंजय शर्मा ने क्लब के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए विधान सभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने प्रतिभागियों को शुभकामना दी तथा राष्ट्र के लिए समर्पित जीवन जीने का आह्वान किया। उन्होंने बताया की उत्तराखंड वीरों की भूमि रही है । युवाओं को राष्ट्र के प्रति समर्पण के लिए तैयार रहना चाहिए । इसी क्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुवे पूर्व निदेशक उच्च शिक्षा प्रोफेसर एंन पी माहेश्वरी ने भी विचार व्यक्त किए। समन्वयक प्रोफेसर सुधा सुषमा गुप्ता ने बताया की युवाओं में राष्ट्रभक्ति की भावना का होना राष्ट्र की सुरक्षा के लिए अत्यंत आवश्यक है। कार्यक्रम संयोजक डॉक्टर सत्येंद्र कुमार ने युवाओं को अधिक से अधिक संख्या में एनसीसी में प्रतिभाग कर राष्ट्र के लिए अपने योगदान को सुनिश्चित करने की सलाह दी।
महाविद्यालय की प्राचार्या प्रोफेसर सुधा भारद्वाज ने बताया कि जब तक युवाओं में एकता अखंडता की भावना विकसित नहीं होती तब तक हम राष्ट्र नहीं बन सकते। हम छोटे-छोटे राज्यों का संगठन बनकर रह जाएंगे । प्रतियोगिता में राजकीय महाविद्यालय ऋषिकेश की बबिता तथा नेहा पोलखरियाल ने प्रथम स्थान प्राप्त किया,साक्षी रतूड़ी ऋषिकेश
ईशा भट्ट ,ऋषिकेश,गरिमा ऋषिकेश ,बरखा ऋषिकेश
अनुकृति बटोला कोटद्वार ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया ।जबकि विकाश उनियाल कोटद्वार ,शिवानी ऋषिकेश,रिया कर्णवाल ऋषिकेश,ने तृतीय स्थान प्राप्त किया ।इस अवसर पर डॉ विजेंद्र लिंगवाल राकेश ठाकुर राकेश कुमार डॉक्टर अनिल कुमार, देवेंद्र भट्ट विवेक राजभर आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most view news

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: