स्मृतिवन में पौधों की सुरक्षा को लगाए ट्री गार्ड,वन क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण

स्मृतिवन में पौधों की सुरक्षा को लगाए ट्री गार्ड,वन क्षेत्राधिकारी ने किया निरीक्षण

ऋषिकेश-अठूर भागीरथी स्वयं सहायता समूह द्वारा संचालित स्मृतिवन ऋषिकेश में स्थानीय व्यक्तियों,जनप्रतिनिधियों सहित प्नशासन के अधिकारियों द्वारा अपनों की पुण्य और मधुर स्मृति में जून 2019 से अब तक किये गये पौध रोपण के पौधों की सुरक्षा को पादप सुरक्षा कवच (ट्रीगार्ड)स्थापित किये जाने लगे हैं।

समूह अध्यक्ष और स्मृतिवन ऋषिकेश के संरक्षक पर्यावरणविद विनोद जुगलान विप्र ने बताया कि प्रकृति के संरक्षण को ध्यान में रखते हुए स्मृतिवन की परिकल्पना कर जून 2019 में स्थापना की गई है।स्मृतिवन में कोई भी व्यक्ति अपनी मधुर या अपनों की यादों को जीवन्त करने के उद्देश्य से पौधा रोपण हेतु संरक्षण के लिए आजीवन शुल्क दो हजार देकर स्मृतिवन में पौधरोपण कर सकता है।स्मृतिवन संरक्षण-संवर्धन के साथ-साथ सौंदर्यीकरण को लेकर प्रयास किये जा रहे हैं।
इसमें जनप्रतिनिधियों, जिलाप्रसाशन,स्थानीय प्रसाशन सहित नगरनिगम ऋषिकेश का भी सहयोग माँगा जा रहा है।देहरादून जिलाधिकारी महोदय के निर्देश पर एमडीडीए द्वारा दो सौ पादप सुरक्षा कवच जारी किए गए हैं।प्रथम चरण में 61 सुरक्षा कवच स्थापित किये जा रहे हैं।जिन पर पौधरोपण करने वाले व्यक्ति द्वारा उपलब्ध कराया गया नाम लिखने के साथ-साथ वाटरप्रूफ फोटो लगाए जाने और जी टैग करने पर भी विचार किया जा रहा है।इसके साथ ही स्मृतिवन आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा हेतु दो शौचालयों का निर्माण भी प्रस्तावित है।स्मृतिवन की परिकल्पनाओं को साकार करने का उद्देश्य है कि तीर्थ और योगनगरी ऋषिकेश आने वाले श्रद्धालुओं एवं पर्यटकों को पर्यावरण संरक्षण की जानकारी देते हुए उन्हें यहाँ पौधा रोपण के लिए प्रोत्साहित कर भविष्य की पीढ़ी के लिए शुध्द प्राण वायु प्रदान करना है।इस तरह एक-एकपौधा रोपण से आने वाले बीस वर्षो में एक सघनवन तैयार हो जाएगा।जिससे प्रकृति के संरक्षण में मदद मिलेगी।पौधों की सुरक्षा के लिए स्थापित किये जा रहे ट्री गार्ड्स के निरीक्षण के लिए वन क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश एम एस रावत ने स्मृतिवन पहुँचकर चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया।मौके पर स्मृतिवन संरक्षण समूह के सचिव रमेश चंद्र बेलवाल,वन दरोगा स्वयम्बर दत्त कण्डवाल,वन दरोगा राम पाल पाठक, वन बीट अधिकारी मनसा राम गौड़,वन आरक्षी सुभाष बहुगुणा,वन बीट सहायक देवेन्द्र सिंह प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: