भारत की छवि वैश्विक स्तर पर विश्वनीयता से युक्त है-स्वामी चिदानन्द सरस्वती

भारत की छवि वैश्विक स्तर पर विश्वनीयता से युक्त है-स्वामी चिदानन्द सरस्वती

ऋषिकेश-परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने भारत को दो वर्षो के लिये निर्विरोध संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् का अस्थायी सदस्य चुने जाने पर अत्यंत प्रसन्नता व्यक्त करते हुये कहा कि वास्तव में यह गौरव का क्षण है। 192 में से 184 सदस्यों का समर्थन प्राप्त होना, वैश्विक स्तर पर भारत के सहयोग, सद्भाव, सद्भावना और वसुधैव कुटुम्बकम् की भावना के असर को दर्शाता है। संयुक्त राष्ट्र संघ के सदस्यों ने भारी समर्थन देकर यह दिखा दिया कि भारत की छवि वैश्विक स्तर पर विश्वनीयता से युक्त है ।जो कि वैश्विक पटल पर भारत को उभरती महाशक्ति के रूप में पहचान को दर्शाता है, साथ ही शान्ति और अहिंसा को बढ़ावा देने वाली भी है।

भारत को 8 वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् का अस्थायी सदस्य चुना गया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, संयुक्त राष्ट्र संघ के 6 प्रमुख हिस्सों में से एक है, जो कि वैश्विक स्तर पर शान्ति और सुरक्षा को सुनिश्चित करने हेतु प्रतिबद्ध है।
स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि कोरोना संकट के काल में भारत के प्रधानमंत्री ने भारतीयों को एक विशाल परिवार की तरह सम्भालते हुये जिस धैर्य का परिचय दिया वह अद्भुत है। संकट के समय जब लोग अपना धैर्य खो देते हैं, उस समय पी एम मोदी के द्वारा लिये गये निर्णय उनकी बौद्धिक प्रखरता और दूरदर्शीता को दर्शाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most view news

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: