उपेक्षा से गुस्साए परिवहन व्यवसायी सरकार के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा

उपेक्षा से गुस्साए परिवहन व्यवसायी सरकार के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा

ऋषिकेश- उत्तराखंड सरकार द्वारा यात्राकालीन रोड़ मैप में परिवहन व्यवसायियों की उपेक्षा को लेकर सरकार के खिलाफ आक्रोश का माहौल पनपना शुरू हो गया है।
विगत दिवस उत्तराखंड सरकार द्वारा घोषित यात्रा कालीन रोड मैप में परिवहन व्यवसायियों को किसी भी प्रकार की मदद ना देने के चलते विक्रम यूनियन ऋषिकेश में हुई बैठक में सरकार का विरोध किया जाने का निर्णय लिया गया । बैठक की अध्यक्षता करते हुए विक्रम महासंघ के अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने कहा कोरोना महामारी के चलते लगभग ढाई माह से परिवहन व्यवसाय पूर्ण रूप से ठप है जिसकी वजह से व्यवसायियों के साथ ही चालक परिचालको का जीवन यापन करना संभव नहीं रहा है। महंत विनय सारस्वत ने कहा कि उत्तराखंड की मुख्य आर्थिकी परिवहन एवं पर्यटन पर ही आधारित है ।ऐसे में सरकार द्वारा परिवहन व्यवसाय की उपेक्षा किए जाने के दूरगामी परिणाम होंगे। परिवहन को विगत सरकार द्वारा केदारनाथ आपदा में 2 वर्ष के रोड टैक्स माफ किए जाने के साथ ही आर्थिक मदद दी थी। वर्तमान सरकार को भी पूर्व सरकार की भांति मदद करनी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही परिवहन व्यवसायियों द्वारा अपनी मांगों के समर्थन में सरकार की सरकार का गांधीवादी तरीके से विरोध किया जाएगा। बैठक में विक्रम यूनियन लक्ष्मण झूला अध्यक्ष तिलोक भंडारी , मुनि की रेती अध्यक्ष फेरू जगवानी , ऑटो यूनियन के अध्यक्ष राजेंद्र लाम्बा टैक्सी यूनियन अध्यक्ष विजयपाल रावत, मैक्सी यूनियन अध्यक्ष भगवान सिंह राणा, ऋषिकेश विक्रम उपाध्यक्ष वीरेंद्र सजवान , हरिमोहन टीटू , प्रवीण नौटियाल , राम आशीष राजभर , द्वारिका प्रसाद आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: